Firing in milak historysheeter held - मिलक में हिस्ट्रीशीटर ने पुलिस पर की फायरिंग, गिरफ्तार DA Image
15 दिसंबर, 2019|3:05|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिलक में हिस्ट्रीशीटर ने पुलिस पर की फायरिंग, गिरफ्तार

default image

हिस्ट्रीशीटर बदमाश ने मिलक पुलिस पर फायरिंग कर दी। बदमाश की गोली पुलिस कर्मियों के बराबर से निकल गई, लेकिन पुलिस की कार गोली से क्षतिग्रस्त हो गई। पुलिस ने भी जवाब में बदमाश को निशाना बनाकर फायरिंग की, जिससे वह घायल हो गया और पुलिस ने दबोच लिया। उसके पास से हथियार भी बरामद हुए हैं।

घटना मिलक क्षेत्र के खाता चिंतामन गांव की है। गांव में दो दिन पहले 65 वर्षीय वृद्ध मदनलाल की पीटकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में गांव के ही हिस्ट्रीशीटर विनोद, उसके भाई पंकज और पिता भूप सिंह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। पुलिस तीनों आरोपियों की तलाश कर रही थी।

मंगलवार की रात ढाई बजे आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस जब दबिश देने को ग्राम खाता चिंतामन पहुंचीं तो गांव के समीप बनी पुलिया पर पहले से घात लगाए बैठे आरोपी विनोद और उसके भाई ने पुलिस की गाड़ी आती देख उस पर फायरिंग करना शुरु कर दी। इस पर पुलिस ने आरोपियों पर जवाबी फायरिंग की।

फायरिंग में हिस्ट्रीशीटर विनोद के पैर में गोली लगी जिससे वह घायल हो कर गिर गया, जबकि उसका भाई मौके से फरार हो गया। घायल विनोद के पास से 12 बोर का एक तमंचा और एक कारतूस बरामद हुआ। पुलिस घायल विनोद को लेकर नगर के सरकारी अस्पताल आयी जहां, उसका प्राथमिक उपचार किया गया और गम्भीर हालत में डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

...............................

हिस्ट्रीशीटर ने सिपाही के हाथ की उंगली तोड़ दी थीं

मिलक। कोतवाली प्रभारी वीरेंद्र सिंह ने बताया कि मुठभेड़ में घायल हुआ हत्या आरोपित विनोद पर खाता चिंतामन निवासी वृद्ध मदनलाल की हत्या का आरोप है। विनोद पर कोतवाली में पूर्व में भी कई गंभीर आरोपों में मुकदमे दर्ज हैं। विनोद अपराधिक प्रवृत्ति का है और वह हिस्ट्रीशीटर है। कुछ महीनों पूर्व एक मुकदमे के सिलसिले में पुलिसकर्मी जब उसे गिरफ्तार करने के लिए गांव गया था तब उसने पुलिस कर्मी मंजू सिंह के हाथ की अंगुलियों तोड़ दी थी। पुलिस उसको गिरफ्तार करने के लिए मंगलवार की रात ढाई बजे गांव जा रही थी। गांव के समीप विनोद और उसका अपराधिक प्रवृत्ति का भाई पंकज दोनों पुलिया के पास बैठे हुए थे। दोनों ने पुलिस पर फायरिंग करनी शुरू कर दी। आरोपितों की फायरिंग के दौरान पुलिस जीप पर जाकर गोली लगी। गनीमत रही किसी भी पुलिसकर्मी का जाल माल का नुकसान नहीं हुआ।

...............................

पुलिस टीम में यह रहे शामिल

मलिक। पुलिस टीम में कोतवाली प्रभारी वीरेंद्र सिंह,एसएसआई ब्रजेश कुमार,कस्वा इंचार्ज राजेश कुमार,एसआई सूरज सिंह,कॉन्स्टेबल कैलाश सिंह, राहुल कुमार, जाकिर हुसैन, चालक सतवीर सिंह, रामदत्त सिंह, सौरव सोलंकी, इरशाद अली शामिल रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Firing in milak historysheeter held