DA Image
30 नवंबर, 2020|8:20|IST

अगली स्टोरी

रामपुर में एक साथ उठे पिता और दोनों बेटों को जनाजे

रामपुर में एक साथ उठे पिता और दोनों बेटों को जनाजे

1 / 3सड़क हादसे में मरे पिता और दोनों मासूम बेटों का जनाजा एक साथ उठा तो हर आंख नम हो गई। तीनों को गमगीन माहौल में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। गंज कोतवाली क्षेत्र के गांव काशीपुर निवासी यूनुस बाइक से...

रामपुर में एक साथ उठे पिता और दोनों बेटों को जनाजे

2 / 3सड़क हादसे में मरे पिता और दोनों मासूम बेटों का जनाजा एक साथ उठा तो हर आंख नम हो गई। तीनों को गमगीन माहौल में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। गंज कोतवाली क्षेत्र के गांव काशीपुर निवासी यूनुस बाइक से...

रामपुर में एक साथ उठे पिता और दोनों बेटों को जनाजे

3 / 3सड़क हादसे में मरे पिता और दोनों मासूम बेटों का जनाजा एक साथ उठा तो हर आंख नम हो गई। तीनों को गमगीन माहौल में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। गंज कोतवाली क्षेत्र के गांव काशीपुर निवासी यूनुस बाइक से...

PreviousNext

सड़क हादसे में मरे पिता और दोनों मासूम बेटों का जनाजा एक साथ उठा तो हर आंख नम हो गई। तीनों को गमगीन माहौल में सुपुर्द ए खाक कर दिया गया। गंज कोतवाली क्षेत्र के गांव काशीपुर निवासी यूनुस बाइक से रिश्तेदारी में जा रहा था। उसके साथ पत्नी आरमाना, दो बेटे और एक बेटी भी बाइक पर थी। रामपुर स्वार रोड पर करनपुर गांव के पास निजी बस ने उसे रौंद दिया था। हादसे में यूनुस और उसके दो मासूम बेटों की मौत हो गई थी, जबकि पत्नी अरमाना और एक दो साल की बेटी जिंदगी और मौत के बीच में जूझ रही है। मंगलवार को ही दोपहर बाद दोनों बेटों के शव का पोस्टमार्टम कर दिया गया था, लेकिन यूनुस को इलाज के लिए बरेली भेजा गया था, जहां रास्ते में उसकी मौत हो गई थी। बाद में उसका शव भी रामपुर लाकर मोर्चरी में रखा गया । उसके शव की पोस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू की गई । प्रशासन की अनुमति के बाद रात में यूनुस के शव का पोस्टमार्टम किया गया, जिसके बाद परिजन तीनों शव मोर्चरी से एक साथ गांव ले गए , जहां पिता और दोनों बेटों के जनाजे एक साथ उठे तो हर आंख नम हो गई। लोगों की आंखों में आंसू आने लगे। गमगीन माहौल में पिता और दोनों बेटों को सुपुर्द ए खाक कर दिया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Father and two sons get up together in Rampur