DA Image
21 सितम्बर, 2020|9:58|IST

अगली स्टोरी

पुलिस के हाथ नहीं आ रहा कोरोना संक्रमित बंदी

default image

कोरोना संक्रमित हत्या और बलात्कार के आरोपी बंदी चार दिन बाद भी पुलिस के हाथ नहीं आ सका है। हालांकि उसकी तलाश को पुलिस ने जौहर यूनिवर्सिटी घेर ली है। यूनिवर्सिटी के अंदर उसकी तलाश की जा रही है, जबकि यूनिवर्सिटी के चारों ओर भी पुलिस बल को तैनात किया गया है।

पुलिस को शक ही नहीं, बल्कि पूरा भरोसा है कि फरार बंदी यूनिवर्सिटी परिसर में ही कहीं न कहीं छुपा है, जिसे पकड़ लिया जाएगा। केमरी निवासी सलीम पुत्र पुत्तन चार साल से जिला जेल में बंद था। उस पर हत्या, बलात्कार और बच्चों से भी अश्लील हरकत करने का आरोप है।

सप्ताह भर पहले वह जेल में कोरोना पॉजिटिव हो गया था, जिसे इलाज के लिए क्वारन्टीन सेंटर बनाए गए जौहर यूनिवर्सिटी मेडिकल कॉलेज भेजा गया था, जहां से उसे शनिवार को जेल वापस लाया जा रहा था। इसी दौरान पुलिस को चकमा देते हुए वह फरार हो गया था। तीन दिन से पुलिस उसकी तलाश कर रही है। पुलिस को शक है कि वह यूनिवर्सिटी में ही कहीं ना कहीं छुपा हुआ है। इसलिए पुलिस हर रोज यूनिवर्सिटी के भीतर जंगल और भावनो में तलाश कर रही है। यूनिवर्सिटी के बाहर भी पुलिस बल को तैनात किया गया है। रविवार को पुलिस अधीक्षक भी यूनिवर्सिटी पहुंचे थे और फरार बंदी की तलाश कराई थी। पुलिस को पूरा भरोसा है कि फरार बंदी यूनिवर्सिटी परिसर में ही छुपा है, जिसे तलाश कर लिया जाएगा। इसलिए पुलिस घेराबंदी कर तलाश कर रही है। मंगलवार को भी फरार बंदी की तलाश जारी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona infected captives not coming to police