DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › रामपुर › केंद्र सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने होंगे
रामपुर

केंद्र सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने होंगे

हिन्दुस्तान टीम,रामपुरPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 05:40 PM
केंद्र सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने होंगे

किसान पंचायत में भाकियू अम्बावता से जुड़े किसानों ने केन्द्र सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि एक न एक दिन केंद्र सरकार को किसान विरोधी तीनों कृषि कानून वापस लेने होंगे।इस दौरान आगामी पांच सितम्बर को होने वाली किसान महापंचायत को सफल बनाने की अपील की।

बुधवार को भाकियू अंबावता से जुड़े किसानों द्वारा क्षेत्र के मिलक बिचौला गांव में पंचायत का आयोजन किया गया।मौजूद किसानों को संबोधित करते हुए वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हनीफ वारसी ने कहा कि खेती किसानी में प्रयोग होने वाली वस्तुओं समेत इंसानों के प्रयोग में होने वाली सभी वस्तुओं की दरों में तीन गुना तक वृद्वि हो गयी है लेकिन सरकार द्वारा किसानों की फसलों की उपज के दाम उस अनुपात में नहीं बड़ाये जा रहे हैं।किसानों की हक की लड़ाई लड़ने को संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले आगामी पांच सितम्बर को मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत होना है।राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ऋषि पाल अंबावता जी के आदेश अनुसार सभी पदाधिकारी तय शुदा कार्यक्रम के अनुसार अपने कार्यकर्ताओं के वाहनों से मुजफ्फरनगर महापंचायत स्थल पर पहुंचे।कार्यकर्ताओं की बैठक लेते हुए श्री वारसी ने सभी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहां की केंद्र सरकार को किसानों के आगे झुकना पड़ेगा।देश की आजादी में भी सैकड़ों वर्ष लग गए थे। यह लड़ाई भी आजादी की लड़ाई से कम नहीं है।अडानी अंबानी की गुलामी किसान किसी कीमत नहीं कर सकता ।इस दौरान दयाशंकर,आरिफ अली,शाकिर अली,सफीक अहमद,गुड्डू,तलवार सिंह, आलिम,श्यामलाल,डॉक्टर अर्जुन सिंह,शकील अहमद,राकेश कुमार,आसिफ अली,राजा,लतीफ अहमद,शफीक अहमद,तौफीक अली,सफदर अली,महेंद्र सागर आदि मौजूद रहे।

संबंधित खबरें