DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अखिलेश ने बेरोजगारी, आजम ने खेला दलित कार्ड

अखिलेश ने बेरोजगारी, आजम ने खेला दलित कार्ड

शाहबाद में रविवार को जनसभा के संबोधन के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने हर वर्ग के वोटर की नब्ज टटोली, लेकिन उनका सबसे ज्यादा फोकस बेरोजगारी और लगातार कम हो रहीं सरकारी नौकरियों पर रहा। इसके जरिये युवाओं को आकर्षित करने की कोशिश की।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कहा कि पुलिस की भर्ती प्रक्रिया को सपा की सरकार ने हमने ही आसान बनाया था। सपा सरकार में पुलिस के जितने प्रोमोशन हुए, उतने कभी नहीं हुए। यहां तक कहा कि दिल्ली पहुंचे तो पुलिस भर्ती की तर्ज पर ही सेना में भी भर्ती करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि वे नफरत फैलाने का काम कर रहे थे। युवाओं को नौकरी देने की बजाय उन पर डंडे बरसा रहे हैं। वहीं, रामपुर से लोकसभा प्रत्याशी आजम खां ने दलित कार्ड खेला। उन्होंने कहा कि सालों से दलितों पर जुल्म होता आया है। अब समय आ गया है उन्हें गले लगाने का, उनके आंसू पोंछने का। अखिलेख ने भी कहा कि उनकी लड़ाई अब तक बसपा वालों से होती थी, अब बसपा भी साथ है। दूसरी ओर पूर्व मंत्री आजम खां ने भाजपा प्रत्याशी जयाप्रदा व अमर सिंह पर भी निशाना साधा। उन्होंने बगैर उनका नाम लिए कहा कि भाजपा प्रत्याशी ने उन पर जो इल्जाम लगाए हैं, वो सरासर गलत हैं। साथ ही जनता से कहा कि आपने 17 साल लगा दिए, जबकि उन्होंने 17 दिनों में पहचान लिया था कि वह आरएसएस की एजेंट हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:akhilesh ne berojagaaree aajam ne dalit kaard khela 44 5000 Akhilesh unemployment Azam played Dalit card