DA Image
14 जनवरी, 2021|11:48|IST

अगली स्टोरी

फर्जी गोल्डन कार्ड बनाने पर दो को पकड़ा

default image

प्रयागराज। वरिष्ठ संवाददाता

फर्जी ढंग से आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाने का खुलासा हुआ है। गुरुवार को क्राइमब्रांच की टीम ने दो लोगों को दबोच लिया। दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

जानकारी के अनुसार, बीते दिनों स्वास्थ्य विभाग को दो लोगों ने फर्जी तरीके से गोल्डन कार्ड बनाने की शिकायत की थी। इसके आधार पर सीएमओ ने योजना की डीआईयू यूनिट व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दरियाबाद के प्रभारी चिकित्साधिकारी ने जांच की। जांच में मामला सही मिलने पर गुरुवार को मुठठीगंज के कटघर निवासी विवेद्र दुबे व एडीए कॉलोनी निवासी आलोक अग्रहरि को क्राइमब्रांच ने पकड़ लिया। सीएमओ डॉ. प्रभाकर राय ने कहा कि गोल्डन कार्ड आयुष्मान भारत योजना अधिकृत जनसेवा केंद्रों पर ही बनाया जाता है। इसके अलावा कार्ड बनवाने का अभियान भी चल रहा है। उन्होंने कहा कि फर्जी ढंग से कार्ड बनाने व तय शुल्क से अधिक लेना गैरकानूनी है। कठोर कार्रवाई व एफआईआर दर्ज की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Two caught for making fake golden card