DA Image
18 जनवरी, 2021|7:20|IST

अगली स्टोरी

कोरोना के साल में साढ़े तीन लाख ने भरी उड़ान

कोरोना के साल में साढ़े तीन लाख ने भरी उड़ान

प्रयागराज। वरिष्ठ संवाददाता

2020 का 75 फीसदी भाग कोरोना संकट के बीच गुजरा। संकट के समय रेल, सड़क व वायु यातायात बुरी तरह प्रभावित होने के बावजूद इस साल साढ़े तीन लाख से अधिक लोगों ने हवाई यात्रा की।

पिछले साल की तुलना में हवाई यात्रियों की संख्या कम है लेकिन इस वर्ष कोरोना के कारण दो महीने तक यात्री विमान सेवा प्रभावित रही। अप्रैल में एक नहीं उड़ा तो यात्री न आए और न गए। 2019 में तीन लाख 90 हजार लोगों ने विमान से यात्रा की थी।

प्रवासी मजदूरों ने भरा दम

प्रयागराज। कोरोना संकट के बीच जून में शुरू हुई सामान्य विमानों में कम यात्री आवागमन कर रहे थे। अलग-अलग शहरों को जाने वाले प्रवासी मजदूरों ने हवाई यात्रा शुरू की तो एयरपोर्ट पर चहल-पहल बढ़ गई। जुलाई से नवंबर तक हजारों मजदूरों ने विमानों से आवागमन किया।

दो साल का हुआ एयरपोर्ट

प्रयागराज। प्रयागराज में नवनिर्मित एयरपोर्ट दो साल का हो गया। कुम्भ से पहले एक जनवरी 2019 को एयरपोर्ट से अलग-अलग शहरों के लिए विमान सेवा शुरू हुई थी।

2019 वल 2020 में प्रयागराज एयरपोर्च से उड़ान

-दो साल में एयपोर्ट से सात लाख 40 हजार लोगों से अधिक ने आवागमन किया।

-2019 में 4465 विमानों का आवागमन हुआ। इनमें तीन लाख 90 हजार 65 यात्रा गए और आए।

-2020 में 3509 विमानों से तीन लाख 51 हजार 268 ने यात्रा की।

-अप्रैल 2020 में प्रयागराज से एक भी विमान नहीं उड़ा।

-इस साल प्रयागराज से गोरखपुर और पुणे के लिए विमान सेवा शुरू हुई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Three and a half million flew in Corona 39 s year