DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश प्रयागराजजो निगल ले तमस सारा रवि वही है.......

जो निगल ले तमस सारा रवि वही है.......

हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजNewswrap
Mon, 01 Nov 2021 03:30 AM
जो निगल ले तमस सारा रवि वही है.......

लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर रविवार को शहर की सामाजिक, सांस्कृतिक और साहित्यिक, संस्थाओं की ओर से कार्यक्रम आयोजित किए गए।

हिन्दुस्तानी एकेडमी और राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान की ओर से बहुभाषी कवि सम्मेलन हुआ। जितेन्द्र मिश्र जलज ने कविता मां तेरे चरणों में अब यह सिर नवाना चाहता हूं प्रस्तुत की। हरि प्रकाश हरि ने कहा जो दिलों पर छोड़े छवि वही है, जो निगल ले तमस सारा रवि वही है। निर्भय नारायण गुप्त ने राधिका मन श्याम की बांसुरी... ब्रज कविता प्रस्तुत की। विजय त्रिपाठी ने राष्ट्रीय एकता पर केंद्रित कविता प्रस्तुत की। शिवमंगल सिंह मंगल, डॉ. कमलेश राय, डॉ. ओंकार नाथ द्विवेदी, मनोज अवस्थी शुकदेव, राजेन्द्र तिवारी, डॉ. विनम्रसेन सिंह, एमएस खान और शाम्भवी ने काव्य पाठ किया। आभार ज्ञापन प्रकाशन अधिकारी ज्योतिर्मयी ने किया।

 

छायाचित्र व अभिलेख प्रदर्शनी लगी

क्षेत्रीय अभिलेखागार में सरदार वल्लभ भाई पटेल पर केंद्रित छायाचित्र एवं अभिलेख प्रदर्शनी लगाई गई। उद्घाटन मुख्य अतिथि चतुर्थ वाहिनी पीएसी धूमनगंज के सेनानायक प्रताप गोपेन्द्र ने फीता काटकर किया। प्रदर्शनी में वर्ष 1913 से 1950 तक के अभिलेखों एवं चित्रों को प्रदर्शित किया गया है। स्वागत प्रभारी क्षेत्रीय अभिलेखागार गुलाम सरवर ने किया। राकेश कुमार वर्मा, हरिश्चन्द्र दुबे, डॅा. शाकिरा आदि की मोजूदगी रही।

रंगोली में अरुण ने मारी बाजी

इलाहाबाद संग्रहालय में राष्ट्रीय एकता विषय पर रंगोली प्रतियोगिता हुई। कई विद्यालयों के 55 प्रतिभागियों ने आकर्षक रंगोली सजाई। रंगोली में प्रथम पुरस्कार अरुण चौहान, द्वितीय चन्द्रदीप सिंह और बलराम को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ। संग्रहालय के निदेशक डॉ. अखिलेश कुमार सिंह ने विजयी प्रतिभागियों को सम्मानित किया। अखिल भारती सरदार पटेल छात्र संगठन की ओर से संगम क्षेत्र में फल वितरित किया गया।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें