DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  प्रयागराज  ›  स्वस्थ होने के बाद भी कोरोना संक्रमितों की देखभाल

प्रयागराजस्वस्थ होने के बाद भी कोरोना संक्रमितों की देखभाल

हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजPublished By: Newswrap
Thu, 29 Oct 2020 04:01 PM
स्वस्थ होने के बाद भी कोरोना संक्रमितों की देखभाल

कोरोना को हराने वालों के लिए अच्छी खबर है। स्वास्थ्य विभाग ऐसे लोगों की कंगारू केयर करेगा। इसके लिए कोविड हेल्प डेस्क की बनी है। मोतीलाल नेहरू मंडलीय चिकित्सालय (काल्विन) में हेल्प डेस्क शुक्रवार से शुरू होगी। मकसद कोरोना से ठीक हुए लोगों को कोई भी सेहत संबंधी परेशानी न हो, इसका विशेष तौर पर ध्यान रखना है।

जिले में बड़ी संख्या में संक्रमण के खतरे से लोग बाहर आए हैं। उनके स्वास्थ्य की देखरेख हेल्प डेस्क के जरिए होगी। काल्विन अस्पताल की सीएमएस डॉ सुषमा श्रीवास्तव के मुताबिक, कोविड हेल्प डेस्क अस्पताल के वार्ड 8 व 9 से संचालित होगी। डेस्क दो डॉक्टरों की देखरेख में होगी। कोरोना से स्वस्थ हुए मरीजों को पेट, हार्ट, चेस्ट, मानसिक समेत अन्य परेशानी का उपचार यहां अलग से किया जाएगा। सीएमएस ने बताया कि कोविड हेल्प डेस्क में आए व्यक्ति को अगर कोई गंभीर समस्या है तो उसे भर्ती भी किया जाएगा। अस्पताल में इसकी पूरी तैयारी की गई है।

शांत दिमाग व तनाव दूर करने का बताएंगे तरीका :

सीएमएस के अनुसार, संक्रमण के दौरान परिवार व सगे-संबंधियों से दूर रहने का असर मानसिक तौर पर पड़ने के मामले सामने आए हैं। कोरोना से ठीक होने के बाद भी इसका असर बना रहता है। ऐसे हालत से निपटने का भी इंतजाम कोविड हेल्प डेस्क में किया गया है। मनोरोग विशेषज्ञ के जरिए दिमाग को शांत व तनाव को दूर रखने का तरीका बताया जाएगा। अहम पहलू यह है कि स्वस्थ होने के बाद भी सबकुछ खत्म होने का डर बना रहता है, इसे पूरी तरह से खत्म करना है।

संबंधित खबरें