ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रयागराजसप्ताह में दो पीरिएड लाइब्रेरी में अध्ययन करेंगे छात्र

सप्ताह में दो पीरिएड लाइब्रेरी में अध्ययन करेंगे छात्र

समग्र शिक्षा अभियान (माध्यमिक) के तहत प्रदेश के 2306 राजकीय विद्यालयों में पुस्तकालयों का सुदृढ़ीकरण किया...

सप्ताह में दो पीरिएड लाइब्रेरी में अध्ययन करेंगे छात्र
हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजThu, 23 May 2024 11:30 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज। समग्र शिक्षा अभियान (माध्यमिक) के तहत प्रदेश के 2306 राजकीय विद्यालयों में पुस्तकालयों का सुदृढ़ीकरण किया जाएगा। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि छात्र-छात्राओं को सप्ताह में दो पीरिएड लाइब्रेरी में अध्ययन करना अनिवार्य होगा। इस संबंध में राज्य परियोजना निदेशक समग्र शिक्षा और महानिदेशक स्कूल शिक्षा कंचन वर्मा ने नौ मई को सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को पत्र जारी किया है। शैक्षिक पंचाग में माहवार उल्लिखित विभिन्न दिवसों पर पुस्कालय में गतिविधियां करायी जाएंगी।
रीडिंग क्लब, प्रश्नोत्तरी क्लब, साहित्यिक क्लब, वाद-विवाद क्लब आदि के माध्यम से पुस्तकालय की गतिविधियों को सक्रियता बढ़ाएंगे। विद्यार्थियों और शिक्षकों को पुस्तकालय में बैठकर पढ़ने के लिए पुस्तकें उपलब्ध कराई जाएंगी। कुछ निश्चित अवधि (अधिकतम 15 दिन) के लिए विद्यार्थियों को पुस्तक घर ले जाने की सुविधा भी प्रदान करने की व्यवस्था होगी। छात्र-छात्राओं में पढ़ने के प्रति रूचि बढ़ाने के लिए पुस्तकालय का दायित्व देखने वाले शिक्षक पुस्तकों की प्रदर्शनी, समारोह, प्रतियोगिताएं, पुस्तक मेले आदि का आयोजन भी करेंगे। जिला विद्यालय निरीक्षक पीएन सिंह का कहना है कि शासन के निर्देश के क्रम में सभी राजकीय स्कूलों में पुस्तकालय का उपयोग बढ़ाने के प्रयास किए जाएंगे।

प्रत्येक स्कूल में गठित होगी छात्र पुस्तकालय समिति

छात्र-छात्राओं में पठन-पाठन के प्रति रुचि पैदा करने के उद्देश्य से प्रत्येक राजकीय स्कूल में छात्र पुस्तकालय समिति भी गठित होगी। इसके अध्यक्ष प्रधानाचार्य होंगे और पुस्तकालयाध्यक्ष या इंचार्ज पुस्तक सहायक सदस्य सचिव बनाए जाएंगे। स्कूल में पढ़ाए जाने वाले तीन मुख्य शिक्षक के एक-एक शिक्षक और विभिन्न कक्षाओं से पुस्तकालय कप्तान चयनित पांच छात्र समिति के सदस्य होंगे। स्कूल मैनेजमेंट कमेटी के एक सदस्य समिति के आमंत्रित सदस्य होंगे। महीने में कम से कम एक बार समिति की बैठक होगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।