DA Image
16 जनवरी, 2021|12:37|IST

अगली स्टोरी

घने कोहरे में जीपीएस से मिलेगी सिग्नल की जानकारी

default image

प्रयागराज। वरिष्ठ संवाददाता

कोहरे के समय ट्रेनों को समय से चलाने में रेलवे जीपीएस की मदद लेगा। घना कोहरा होने पर जीपीएस लोको पायलटों को सिग्नल की स्थिति से अवगत कराएगा। उत्तर मध्य रेलवे ने यात्री ट्रेनों में यह व्यवस्था की है।

कोहरे में ट्रेनों को समय से चलाने के लिए उत्तर मध्य रेलवे पहले से फॉग सेफ डिवाइस का उपयोग कर रहा है। अब फॉग सेफ डिवाइस को जीपीएस के साथ लिंक किया गया है। यह जानकारी कोहरे में ट्रेनों के संचालन पर मंगलवार को हुई बैठक में दी गई। उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने प्रयागराज, झांसी और आगरा मंडल के डीआएम व अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक की थी।

उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अजीत कुमार सिंह ने बताया कि लोको पायलटों की सुविधा बढ़ाई जा रही है। जोन के 448 इलेक्ट्रिक और 102 डीजल इंजनों के लोकोमोटिव कैव की सीलिंग की जा रही है ताकि ट्रेन चलाते समय लोको पायलटों को ठंड न लगे। इसके अलावा जोन के सभी रनिंग रूम में कंबल, गीजर, रूम हीटर आदि की व्यवस्था की गई है ताकि लोको पायलट ठीक से आराम कर सकें।

सीपीआरओ के मुताबिक मीटिंग में अधिकारियों ने पॉवर प्वाइंट प्रेंजेंटेशन के माध्यम से कोहरे में ट्रेनों के संचालन के तैयारियों की जानकारी महाप्रबंधक को दी। बैठक में अधिकारियों ने कहा कि मानवयुक्त लेवल क्रॉसिग गेट पर रेट्रोफ्लेक्टिव बोर्ड लगा दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि मालगाड़ियों के भी समय से चलाने पर पुख्ता इंतजाम हो रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Signal information will be available from GPS in dense fog