ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रयागराजसंत कठिनता को बना देते हैं सहज : संत दशरथ

संत कठिनता को बना देते हैं सहज : संत दशरथ

माघ मेला स्थित सदानंद तत्वज्ञान परिषद के पंडाल में सोमवार को सत्संग आयोजित किया। संत दशरथ ने कहा कि सच्चे संत न होते तो संसार का कोई अस्तित्व नहीं...

संत कठिनता को बना देते हैं सहज : संत दशरथ
हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजMon, 05 Feb 2024 07:00 PM
ऐप पर पढ़ें

माघ मेला स्थित सदानंद तत्वज्ञान परिषद के पंडाल में सोमवार को सत्संग आयोजित किया। संत दशरथ ने कहा कि सच्चे संत न होते तो संसार का कोई अस्तित्व नहीं बचता। संत कठिनता को सहज बना देते हैं। गौतम बुद्ध, महावीर स्वामी और गुरु नानक सभी महापुरुषों ने सांसारिक माया-मोह त्याग करके प्रसिद्धि प्राप्त की। जो लोग शास्त्रों का अध्ययन नहीं करते, सत्संग नहीं सुनते वे मानव जीवन को नहीं जान सकते। मानव जीवन का उद्देश्य क्या है, इसकी मंजिल क्या है इसकी जानकारी देने वाले को धर्मशास्त्र कहते हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें