ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रयागराजट्रिपलआईटी में रजिस्ट्रार की भर्ती के खिलाफ याचिका पर हस्तक्षेप से इनकार

ट्रिपलआईटी में रजिस्ट्रार की भर्ती के खिलाफ याचिका पर हस्तक्षेप से इनकार

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ट्रिपल आईटी झलवा प्रयागराज में रजिस्ट्रार की नए सिरे से भर्ती प्रक्रिया के खिलाफ दाखिल याचिका पर हस्तक्षेप से इनकार कर दिया है।...

ट्रिपलआईटी में रजिस्ट्रार की भर्ती के खिलाफ याचिका पर हस्तक्षेप से इनकार
हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजSat, 25 May 2024 01:15 AM
ऐप पर पढ़ें

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ट्रिपल आईटी झलवा प्रयागराज में रजिस्ट्रार की नए सिरे से भर्ती प्रक्रिया के खिलाफ दाखिल याचिका पर हस्तक्षेप से इनकार कर दिया है। कोर्ट ने याची कार्यकारी रजिस्ट्रार को चयन प्रक्रिया में शामिल करने का निर्देश देने से यह कहते हुए स्वयं को अलग कर लिया कि इतने समय बाद संस्थान चाहे तो याची को अनुमति दे सकता है। यह आदेश न्यायमूर्ति सौरभ श्याम शमशेरी ने प्रो विजयश्री तिवारी की याचिका को खारिज करते हुए दिया है।
याचिका का विपक्षी के अधिवक्ता शैलेन्द्र ने प्रतिवाद किया। ट्रिपलआईटी में रजिस्ट्रार का पद रिक्त होने पर याची को रजिस्ट्रार का चार्ज मिला। साथ ही रिक्त पद को भरने की प्रक्रिया शुरू की गई। इसके लिए दो सदस्यीय कमेटी बनी। केस स्टडी व प्रेजेंटेशन क्राइटेरिया तय हुआ। कुल 52 में याची सहित 24 अभ्यर्थियों ने प्रक्रिया में प्रतिभाग किया। इनमें सात नामों की संस्तुति की गई। बाद में स्क्रीनिंग कमेटी ने याची का चयन किया और केके तिवारी को प्रतीक्षा सूची में रखा। चार अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा में समान अंक मिले थे। याची ने चयन में हस्तक्षेप किया था तो बोर्ड ऑफ गवर्नर ने चयन प्रक्रिया शून्य घोषित कर‌ दी। नए सिरे से शुरू चयन प्रक्रिया से याची ने दूरी बनाए रखी।

कोर्ट ने कहा कि चयनित होने मात्र से नियुक्ति पाने का अधिकार नहीं मिल जाता। चयन प्रक्रिया अवैध थी तो जांच केवल धूल झोंकने जैसी थी। याची को नियुक्ति पत्र जारी नहीं किया गया था। याची कार्यकारी रजिस्ट्रार थी और चयन प्रक्रिया से स्वयं को अलग नहीं रख सकी। चयन‌ प्रक्रिया शून्य थी इसलिए याची को राहत नहीं दी जा सकती। साथ ही नई चयन प्रक्रिया में याची को काफी समय बीत जाने के कारण शामिल करने का आदेश नहीं दिया जा सकता।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।