DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  प्रयागराज  ›  तबलीगी जमात के लोगों के खिलाफ आपराधिक केस तय करने में हस्तक्षेप से इनकार

प्रयागराजतबलीगी जमात के लोगों के खिलाफ आपराधिक केस तय करने में हस्तक्षेप से इनकार

हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 04:32 AM
तबलीगी जमात के लोगों के खिलाफ आपराधिक केस तय करने में हस्तक्षेप से इनकार

प्रयागराज। विधि संवाददाता

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तबलीगी जमात के लोगों के खिलाफ आपराधिक मुकदमों के निस्तारण के सुप्रीम कोर्ट व हाईकोर्ट के निर्देशों की अवहेलना से जुड़ी याचिका में प्रस्तुत अर्जियों पर हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि याची को याचिका में अर्जी देने की बजाय सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट में अवमानना याचिका दाखिल करना चाहिए। इसी के साथ कोर्ट ने निस्तारित हो चुकी याचिका में दाखिल सभी अर्जियों को खारिज कर दिया है। हाईकोर्ट ने पहले ही केस के निस्तारण के संबंध मे आदेश जारी कर चुकी है।

यह आदेश न्यायमूर्ति अंजनी कुमार मिश्र एवं न्यायमूर्ति एसएएच रिजवी की खंडपीठ ने मौलाना अदा हदर्मी व अन्य की याचिका पर दाखिल अर्जियों की सुनवाई करते हुए दिया है। याचियों का कहना था कि मेरठ व बरेली की अदालत हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट के निर्देश का पालन नहीं कर रही है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि प्रदेश की विभिन्न अदालतों में तबलीगी जमात के लोगों के खिलाफ चल रहे आपराधिक केस लखनऊ, मेरठ व बरेली की अदालतों में स्थानांतरित किए जाएं और आठ सप्ताह में उनका निस्तारण किया जाए। याचियों का कहना है कि अदालतें इस निर्देश का पालन नहीं कर रही हैं।

संबंधित खबरें