DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  प्रयागराज  ›  रेलवे ने 4.5 लाख पौधरोपण किया, ताकि सुरक्षित रहे पर्यावरण
प्रयागराज

रेलवे ने 4.5 लाख पौधरोपण किया, ताकि सुरक्षित रहे पर्यावरण

हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजPublished By: Newswrap
Sat, 05 Jun 2021 04:00 PM
रेलवे ने 4.5 लाख पौधरोपण किया, ताकि सुरक्षित रहे पर्यावरण

प्रयागराज। वरिष्ठ संवाददाता

पर्यावरण संरक्षित-सुरक्षित रखने में उत्तर मध्य रेलवे भी अहम योगदान निभा रहा है। रेलवे अफसर मानते हैं कि मानव जीवन की नींव समाप्त होने से बचाने के लिए पर्यावरण संतुलन बनाए रखना बहुत जरूरी है। यही वजह है कि उत्तर मध्य रेलवे के प्रयागराज मंडल ने वर्ष 2020-21 में 4 लाख 54 हजार पौधे रोपे। साथ ही 3.629 एमडब्ल्यूपी के सोलर संयंत्रों की स्थापना कराई ताकि बिजली उत्पादन हो सके। इन संयंत्रों के प्रयोग से वित्तीय वर्ष 2020-21 में लगभग 34 लाख यूनिट बिजली का उत्पादन हुआ। इससे लगभग 1.1 करोड़ रुपये की बचत तथा 2.7 किलो टन कार्बन उत्सर्जन में भी कमी हुई। इसी प्रकार 573 कोचों, कार्यालयों, कर्मचारी आवासों एवं कारखानों में ऊर्जा दक्ष एलईडी लाइटें लगाई गईं। विद्युत इंजनों से ऊर्जा पुनरोत्पादन के माध्यम से वित्तीय वार्ष 2020-21 में लगभग 534 लाख यूनिट बिजली पैदा की गई। जिससे लगभग 26 करोड़ रुपये की बचत हुई। 14 एचओजी रेक के प्रयोग से हाई स्पीड डीजल के प्रयोग में कमी लाई गई। पर्यावरण स्वच्छ रखने के लिए 675 कोचों में 2533 बायो टायलेट लगाए गए। प्रयागराज, कानपुर, टूंडला, अलीगढ़, मिर्जापुर, इटावा, फतेहपुर, फफूंद एवं मानिकपुर स्टेशन पर मशीनीकृत सफाई की सुविधा उपलब्ध कराई गई।

प्रयागराज, फतेहपुर, कानपुर, खुर्जा, अलीगढ़, इटावा, टूंडला, कानपुर अनवरगंज, मिर्जापुर, मानिकपुर, सूबेदारगंज, दादरी, प्रयागराज छिवकी एवं फफूंद स्टेशन आईएसओ 14001 से प्रमाणित हैं। पर्यावरण संरक्षण के नजरिये से जोनल मुख्यालय सूबेदारगंज में 50 हजार एल-पीडी क्षमता का सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित हुआ। केंद्रीय हास्पिटल व गार्ड लाबी में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लग रहा है। वर्षा जल संचयन प्रणाली की स्थापना, कार्यालयों में ई-आफिस का अधिक से अधिक प्रयोग, स्टेशनों पर डिजिटल चार्टिंग जैसे प्रयास हो रहे हैं ताकि अधिक कागज, परंपरागत ईंधन और जल बचाया जा सके। प्रयागराज मंडल के पीआरओ अमित सिंह के मुताबिक विभाग पौधरोपण कराने तथा पर्यावरण को सुरक्षित करने की योजना पर काम कर रहा है।

संबंधित खबरें