ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश प्रयागराजपथरचट्टी : मेघनाद के वध से दशानन गरजा

पथरचट्टी : मेघनाद के वध से दशानन गरजा

पथरचट्टी रामलीला कमेटी की ओर से मंगलवार को कुंभकरण वध, लक्ष्मण शक्ति, मेघनाद वध और लंका दहन प्रसंग का मंचन किया...

पथरचट्टी : मेघनाद के वध से दशानन गरजा
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजWed, 05 Oct 2022 01:01 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज। पथरचट्टी रामलीला कमेटी की ओर से मंगलवार को कुंभकरण वध, लक्ष्मण शक्ति, मेघनाद वध और लंका दहन प्रसंग का मंचन किया गया। रामलीला में रावण द्वारा भेजे गए कपट मुनि कालनेमि के प्रसंग का पहली बार मंचन किया गया। समुद्र पार करके राम की सेना लंका पहुंच गई। राम ने अंगद को रावण के दरबार में भेजा। अंगद के पैर को रावण के दरबार में कोई नहीं उठा पाया। आकाश मार्ग में 20 फीट ऊंचे कुंभकर्ण का युद्ध दृश्य दर्शकों को रोमांचित करता रहा। मेघनाद का वध होते हुए लंका में शोक की लहर दौड़ गई। रावण चिंतित हो गया। सुलोचना विलाप करके रावण को कोसती रही। मुख्य अतिथि डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ने आरती-पूजन किया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
अगला लेख पढ़ें
अगला लेखशहर में आज
epaper