ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रयागराजइविवि छात्रों ने मोटे अनाज से बने उत्पाद की शुरू की मार्केटिंग

इविवि छात्रों ने मोटे अनाज से बने उत्पाद की शुरू की मार्केटिंग

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के फूड टेक्नोलॉजी विभाग ने मिलेट से छह प्रकार के खाद्य पदार्थ तैयार किए हैं। विभाग के दो विद्यार्थियों ने मोटे अनाज से बने...

इविवि छात्रों ने मोटे अनाज से बने उत्पाद की शुरू की मार्केटिंग
हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजMon, 04 Dec 2023 11:30 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के फूड टेक्नोलॉजी विभाग ने मिलेट से छह प्रकार के खाद्य पदार्थ तैयार किए हैं। विभाग के दो विद्यार्थियों ने मोटे अनाज से बने मोदक की बिक्री शुरू भी कर दी है। एक मोदक की कीमत 25 रुपये है। विभाग की इस पहल से छात्र-छात्राओं को जहां रोजगार के अवसर मिलेंगे, वहीं आय में वृद्धि भी होगी। अन्य व्यंजनों की बिक्री के लिए विभाग ग्रांडमा मिलेट कंपनी से समझौता करेगा। विभाग के छात्र मोटे अनाज के केक समेत कई अन्य खाद्य पदार्थ तैयार कर रहे हैं। यह कार्य विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. देवेंद्र कौर के निर्देशन में किया जा रहा है। विभागाध्यक्ष प्रो. नीलम यादव ने बताया कि मिलेट यानी ज्वार बाजरा, कोदो, कुटकी, मडुआ आदि से पौष्टिक आहार तैयार कर बच्चों व माताओं को देना चाहिए। इसमें प्रोटीन, फाइबर, विटामिन व खनिज की भरपूर मात्रा रहती है। विभाग के बीएससी फूड टेक्नोलॉजी के पांचवें सेमेस्टर के छात्र कुलदीप बघेल और रोज गुप्ता ने मोटे अनाज से मोदक तैयार किया है। मोदक के लिए ऑर्डर नियमित मिल रहे हैं।

विभाग ने तैयार किए ये व्यंजन

रागी पास्ता, ब्राउनटॉप नूडल्स, फिंगर मिलेट कुकीज, बाजरा आधारित खाद्य सामग्री। फॉक्सटेल मिलेट (कंगनी) प्रसंस्कृत चकली, बार्नयार्ड (सावां), ब्रेड और पर्ल मिलेट (बाजरा) लड्डू आदि को तैयार किया गया है। यह खाद्य पदार्थ जल्द ही बाजारों में उपलब्ध होगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें