ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रयागराजजीएम एनसीआर और निदेशक डीएफसी ने देखीं व्यवस्थाएं

जीएम एनसीआर और निदेशक डीएफसी ने देखीं व्यवस्थाएं

डीएफसी लाइन पर मालगाड़ियों से कोयले की सर्वाधिक ढुलाई के लिए अब एनसीआर से समन्वय स्थापित किया जा रहा है। इसके लिए मंगलवार को एनसीआर के महाप्रबंधक...

जीएम एनसीआर और निदेशक डीएफसी ने देखीं व्यवस्थाएं
हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजTue, 16 Apr 2024 09:15 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज वरिष्ठ संवाददाता
डीएफसी लाइन पर मालगाड़ियों से कोयले की सर्वाधिक ढुलाई के लिए अब एनसीआर से समन्वय स्थापित किया जा रहा है। इसके लिए मंगलवार को एनसीआर के महाप्रबंधक रविंद्र गोयल व डीएफसी के निदेशक परिचालन व्यवसाय विकास शोभित भटनागर ने प्रयागराज से लेकर दीन दया उपाध्याय यूनिट तक व्यवस्था देखी। साथ ही दूसरे अफसरों को जरूरी टिप्स दिए।

विशेष निरीक्षण यान से सुबह प्रयागराज से निकले अधिकारी करछना पहुंचे। यहां लोको पायलटों के लिए बने वैकल्पिक रनिंग रूम को देखा और भविष्य में स्थाई रनिंग रूम बनाने की बात कही। ऊंचडीह में मेजा ऊर्जा थर्मल पावर की क्षमता के बारे में जानकारी दी। इसके बाद चुनार डीएफसी लाइन पर पहुंचे। यहां विश्वनाथ पुरी स्टेशन से डगमगपुर के जुड़ाव की व्यवस्था का जायजा लिया। रेलमार्ग के बाद महाप्रबंधक व डायरेक्टर ने जलमार्ग की स्थिति को देखा। फ्लाईओवर से डीएफसी पहुंचे। यहां से अंतरदेशीय जलमार्ग परिवहन का अवलोकन किया। जलमार्ग से हल्दिया तक सामानों का आयात व निर्यात होगा। फिर डीडीयू तीसरी लाइन का जायजा लेने यार्ड पहुंचे। यहां अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान पीसीओएम शरद चंद्रयान, सीजीएम प्रयागराज एबी शरण, सीजीएम डीडीयू अतुल कुमार, एजीएम श्रवण कुमार, एजीएम मनु प्रकाश दुबे, डिप्टी सीपीएम जेके सिंह, यशपाल आदि मौजूद रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।