DA Image
28 नवंबर, 2020|7:49|IST

अगली स्टोरी

चार अभ्यर्थियों के दस्तावेजों की होगी फोरेंसिक जांच

चार अभ्यर्थियों के दस्तावेजों की होगी फोरेंसिक जांच

पिछले साल रेलवे की ग्रुप डी की परीक्षा में फर्जीवाड़ा कर पास हुए चार अभ्यर्थियों के दस्तावेजों की फोरेंसिक जांच होगी। रेलवे भर्ती प्रकोष्ठ ने संदेह के घेरे में आए 66 अभ्यर्थियों के दस्तावेजों की जांच पूरी कर ली है। जांच में 39 अभ्यर्थियों के दस्तावेज सही पाए गए। वहीं 27 अभ्यर्थियों ने परीक्षा में गड़बड़ी की।

रेलवे भर्ती प्रकोष्ठ ने जांच के लिए 66 अभ्यर्थियों को बुलाया था। तीन दिन तक चली जांच में 27 अभ्यर्थियों के स्थान पर लिखित और या शारीरिक परीक्षण में किसी और ने भाग लिया। जांच में 15 अभ्यर्थी नहीं आए। आठ अभ्यर्थियों ने परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने की बात स्वीकार कर ली। चार अभ्यर्थियों के कागजात, हस्ताक्षर, अंगूठे के निशान आदि की फोरेंसिक जांच होगी। आरआरसी के चेयरमैन अतुल कुमार मिश्रा ने बताया कि दिसंबर 2018 में लिखित और फरवरी 2019 में शारीरिक परीक्षा हुई थी। दोनों परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों के सभी दस्तावेज और अन्य जांच का निर्णय लिया गया था। प्रारंभिक जांच में 66 संदिग्ध मिले हैं। आरआरसी चेयरमैन के मुताबिक जो दस्तावेजों का सत्यापन कराने के लिए व्यक्तिगत तौर पर उपस्थित नहीं हुए और जिन्होने फर्जीवाड़ा करने की बात स्वीकार कर ली उनको डिबार कर दिया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Forensic examination of documents of four candidates will be done