ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रयागराजअभिज्ञान शाकुंतलम में नायक की भूमिका निभाते थे डॉ. कमलेश दत्त त्रिपाठी

अभिज्ञान शाकुंतलम में नायक की भूमिका निभाते थे डॉ. कमलेश दत्त त्रिपाठी

संस्कृत व नाट्यशास्त्र के मूर्धन्य विद्वान डॉ. कमलेश दत्त त्रिपाठी का कर्मक्षेत्र भले प्रयागराज में अल्पकाल ही रहा हो लेकिन उनका जन्म मालवीय नगर में...

अभिज्ञान शाकुंतलम में नायक की भूमिका निभाते थे डॉ. कमलेश दत्त त्रिपाठी
हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजMon, 04 Dec 2023 12:00 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज। संस्कृत व नाट्यशास्त्र के मूर्धन्य विद्वान डॉ. कमलेश दत्त त्रिपाठी का कर्मक्षेत्र भले प्रयागराज में अल्पकाल ही रहा हो लेकिन उनका जन्म मालवीय नगर में ही हुआ था। शहर से उनका आत्मीय लगाव रहा है। विशेष रूप से इलाहाबाद संग्रहालय में आयोजित होने वाले डॉ. क्षेत्रेश चट्टोपाध्याय स्मृति व्याख्यानमाला में उनका विशेष व्याख्यान होता था। इलाहाबाद संग्रहालय के अधिकारी डॉ. राजेश कुमार मिश्र ने बताया कि डॉ. कमलेश दत्त त्रिपाठी का संग्रहालय में अंतिम बार मार्च 2020 में व्याख्यान हुआ था। उस समय उन्होंने भारतीय कला-संस्कृति में श्रीराम विषय पर सारगर्भित व्याख्यान दिया था। यह आयोजन अयोध्या शोध संस्थान और संग्रहालय के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित हुआ था। डॉ. त्रिपाठी ने महाकवि कालिदास के नाटक अभिज्ञान शाकुंतलम में दुष्यंत की भूमिका निभाते थे। इस नाटक में अभिनय करने के लिए वे कई बार प्रयागराज आए। डॉ. त्रिपाठी के निधन पर शहर के साहित्यकारों ने गहरा शोक व्यक्त किया। डॉ. रसराज त्रिपाठी ने कहा कि डॉ. त्रिपाठी के निधन से संस्कृत साहित्य का एक युग समाप्त हो गया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें