DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › प्रयागराज › डॉ बंसल हत्याकांड: आलोक सिन्हा के आगे बेबस पुलिस और एसटीएफ
प्रयागराज

डॉ बंसल हत्याकांड: आलोक सिन्हा के आगे बेबस पुलिस और एसटीएफ

हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजPublished By: Newswrap
Tue, 25 May 2021 03:10 PM
डॉ बंसल हत्याकांड: आलोक सिन्हा के आगे बेबस पुलिस और एसटीएफ

प्रयागराज। वरिष्ठ संवाददाता

डॉ. एके बंसल की हत्या की साजिश रचने के आरोपी आलोक सिन्हा के आगे प्रयागराज पुलिस व यूपी एसटीएफ बेबस नजर आ रही है। चार साल से फरार आलोक सिन्हा को एसटीएफ भी पकड़ नहीं सकी। एसटीएफ ने ही हत्या का खुलासा कर आलोक सिन्हा को मुख्य आरोपी बनाया है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस के पास सिर्फ कहानियां हैं। किसी के पास कोई अपडेट नहीं है।

पांच अप्रैल को लखनऊ एसटीएफ व प्रयागराज एसटीएफ की संयुक्त टीम ने डॉ. एके बंसल की हत्या का खुलासा किया था। एसटीएफ ने दावा किया था कि डॉक्टर एके बंसल और आलोक सिन्हा के बीच लाखों रुपये के लेनदेन का विवाद था। डॉ. बंसल की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आलोक सिन्हा को जेल भेजा था। बिहार के रहने वाले आलोक सिन्हा ने बदला देने के लिए जेल में बंद बदमाशों व सफेदपोश माफियाओं से संपर्क किया। इसके बाद भाड़े के शूटरों ने जनवरी 2017 में डॉक्टर बंसल की हत्या कर दी। एसटीएफ के खुलासे से पहले से ही पुलिस आलोक सिन्हा पर साजिश रचने का शक जता रही थी। बावजूद इसके पुलिस की कोई भी एजेंसी आलोक सिन्हा को गिरफ्तार नहीं कर सकी। कीडगंज पुलिस ने उसे वांटेड तो कर दिया है लेकिन अभी तक उस पर न तो इनाम घोषित किया और न गैर जमानती वारंट जारी हुआ है।

संबंधित खबरें