DA Image
27 जनवरी, 2021|3:25|IST

अगली स्टोरी

भारतीय नागरिक को बराबरी से जीने का हक देता है संविधान

default image

संविधान दिवस

संविधान दिवस के मौके पर विश्वविद्यालय, कॉलेज, सरकारी संस्थानों में हुए कार्यक्रम

राष्ट्रपति के संविधान प्रस्तावना के प्रसारण के साथ किया सामूहिक पाठ

प्रयागराज। कार्यालय संवाददाता

नागरिक के मौलिक अधिकारों के संवाहक संविधान ही राष्ट्र का सर्वोच्च कानून है। संविधान दिवस के मौके पर स्कूल, कॉलेज, सरकारी संस्थानों में विविध कार्यक्रम और गोष्ठी का आयोजन किया गया। जहां वक्ताओं की संविधान की रूपरेखा से महत्व तक सभी को परिचत कराया।

भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान में संविधान दिवस मनाया गया। प्रशासनिक भवन स्थित प्रेक्षागृह में संस्थान के निदेशक प्रो. पी. नागभूषण के अध्यक्षता में संकाय सदस्य, अधिकारी और कर्मचारियों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविद के साथ संविधान की प्रस्तावना का सामूहिक पाठ किया गया। सामाजिक सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए चल रहे कोविड महामारी को देखते हुए संस्थान ने प्रस्तावना का पठन अपने कार्यालय में उपस्थित होकर भी किया। उत्तर मध्य रेलवे पर 71वें संविधान दिवस का आयोजन किया गया। समारोह का शुभारम्भ उत्तर मध्य रेलवे के मुख्यालय कार्यालय, तीनों मंडलों और अन्य इकाइयों में सविधान दिवस की प्रस्तावना पढ़ने के साथ हुआ। इस वर्ष के समारोह के प्रारंभ में माननीय राष्ट्रपति द्वारा भारतीय संविधान की प्रस्तावना पढ़ने के सीधे प्रसारण के साथ-साथ उत्तर मध्य रेलवे के अधिकारियों, कर्मचारियों और पर्यवेक्षकों द्वारा संविधान प्रस्तावना पढ़ा गया। प्रमुख मुख्‍य कार्मिक अधिकारी नन्द किशोर ने उत्‍तर मध्‍य रेलवे मुख्‍यालय कार्यालय में अधिकारियों, कर्मचारियों और पर्यवेक्षकों को भारतीय नागरिक के मौलिक कर्तव्‍यों की प्रतिज्ञा दिलाई। इसके साथ ही संविधान पर आधारित ऑनलाइन आर्य कन्या डिग्री कालेज में राष्ट्रीय सेवा योजना की तीनों इकाईयों द्वारा संविधान दिवस एवं शपथ ग्रहण का आयोजन किया गया। उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र में संविधान की मूल भावना एवं उसके मूलभूत सिद्धांतो पर परिचर्चा की गई। मुख्य अतिथि के रूप में विधि शिक्षक डा.श्लेष गौतम रहे। इलाहाबाद विश्वविद्याल के विधि संकाय में भारतीय संविधान की उद्देशिका पर ऑनलाइन व्याख्यान संकायध्यक्ष प्रो. आरके चौबे ने दिया। विधि विभागाध्यक्ष प्रो. जेएस सिंह ने कुलपति आरआर तिवारी, कुलसचिव प्रो. एनके शुक्ला, कुलानुशासक प्रो. आरके उपाध्याय का आभार व्यक्ति किया।

इसके साथ ही सर्जनपीठ, मोती लाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, आर्यकन्या कॉलेज, हमीदिया गर्ल्स डिग्री कॉलेज, में संविधान दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किये गये।

मण्डलायुक्त ने दिलाई संविधान की शपथ

संविधान दिवस के अवसर पर मण्डलायुक्त ने गांधी सभागार में भारतीय संविधान की उद्देशिका की दिलायी शपथ संविधान दिवस के अवसर पर दिलायी। मण्डलायुक्त आर रमेश कुमार कहा कि भारतीय संविधान में विभिन्न देशों से अच्छे-अच्छे विषयों को लेकर समाहित किया गया है। उन्होंने कहा कि समय और परिस्थिति के अनुसार आवश्यकता के अनुरूप संविधान संशोधन के द्वारा नये कानून बनाये जाने का प्रावधान किया गया है, जो भारतीय संविधान की विशेषता है। उन्होंने कहा कि अनेकता में एकता भारत की विशेषता है। कहा कि यहां पर सभी लोगो को समान अधिकार प्रदान किये गये है, चाहें वह गरीब हो या अमीर हो। इस अवसर पर अपर आयुक्त भगवान शरण सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ भवन पर छात्र संघ बहाली समेत विभिन्न सूत्री मांगों को लेकर चल रहे समाजवादी छात्र सभा के नेतृत्व में छात्र नेता अजय यादव सम्राट की अगुवाई में पूर्णकालिक अनशन का 128 वां दिन भी जारी रहा।अनशन स्थल पर संविधान दिवस मनाया गया अनशन स्थल पर बोलते हुए छात्र नेता अजय यादव सम्राट ने कहा की छात्र संघ हमारा संवैधानिक अधिकार है हम अपना गौरवशाली छात्र संघ वापस लेकर रहेंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Constitution gives Indian citizen the right to live equally