ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रयागराजपूर्व सांसद रेवती रमण पर 50 समर्थकों समेत मुकदमा, रिहा

पूर्व सांसद रेवती रमण पर 50 समर्थकों समेत मुकदमा, रिहा

करेली थाने के सामने लेखपाल प्रशिक्षण विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर शनिवार दोपहर पूर्व राज्यसभा सांसद कुंवर रेवती रमण की पुलिस से झड़प हो गई।...

करेली थाने के सामने लेखपाल प्रशिक्षण विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर शनिवार दोपहर पूर्व राज्यसभा सांसद कुंवर रेवती रमण की पुलिस से झड़प हो गई।...
1/ 2करेली थाने के सामने लेखपाल प्रशिक्षण विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर शनिवार दोपहर पूर्व राज्यसभा सांसद कुंवर रेवती रमण की पुलिस से झड़प हो गई।...
करेली थाने के सामने लेखपाल प्रशिक्षण विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर शनिवार दोपहर पूर्व राज्यसभा सांसद कुंवर रेवती रमण की पुलिस से झड़प हो गई।...
2/ 2करेली थाने के सामने लेखपाल प्रशिक्षण विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर शनिवार दोपहर पूर्व राज्यसभा सांसद कुंवर रेवती रमण की पुलिस से झड़प हो गई।...
हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजSat, 25 May 2024 09:15 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज, वरिष्ठ संवाददाता।
करेली थाने के सामने लेखपाल प्रशिक्षण विद्यालय में बने मतदान केंद्र पर शनिवार दोपहर पूर्व राज्यसभा सांसद कुंवर रेवती रमण की पुलिस से झड़प हो गई। पुलिस ने उन्हें थाने में बैठा लिया। जिस पर समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की। इस मामले में करेली पुलिस ने पूर्व सांसद, उनके चालक और 50 अज्ञात समर्थकों के खिलाफ सरकारी काम में बांधा पहुंचाना, आचार संहिता का उल्लंघन करना समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। हालांकि सात साल से कम की सजा वाले केस में पुलिस ने पूर्व सांसद को रिहा कर दिया। इस दौरान पूर्व सांसद करीब तीन घंटे तक थाने में बैठे रहे।

पुलिस ने छह संदिग्धों को पकड़ा तो शुरू हुआ हंगामा

करेली में लेखपाल प्रशिक्षण विद्यालय में मतदान के दौरान शनिवार दोपहर काफी भीड़ जुट गई थी। पुलिस अफसर पहुंचे तो चेकिंग शुरू करा दी। इस दौरान मतदान करने वालों में कई ऐसे युवक मिले जिनकी फोटो से मिलान नहीं हो रहा था। मतदान केंद्र के अंदर और बाहर से पांच-छह युवक पकड़े गए। सभी को करेली थाने भेज दिया गया। इनमें सपा से जुड़ा अनवर अंसारी भी था। अनवर के पकड़े जाने की सूचना पर पूर्व सांसद रेवती रमण अपनी गाड़ी से वहां पहुंच गए। उन्होंने मीडियाकर्मियों से कहा कि पुलिस वोटरों को भगा रही है। उन्हें परेशान किया जा रहा है। पूर्व सांसद ने कहा कि वह जाएंगे नहीं, यहीं पर धरना देंगे।

पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

जिस पर पूर्व सांसद और करेली पुलिस ने नोकझोंक हो गई। पुलिस उन्हें थाने ले गई। इस दौरान करेली थाने के दरोगा मनीष कुमार राय की तहरीर पर पूर्व सांसद रेवती रमण, उनके चालक चंद्रशेखर और 50 समर्थकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। एफआईआर के मुताबिक कुंवर रेवती रमण सिंह अपने वाहन में गनर के साथ आकर मतदान केंद्र के सामने रुके और समर्थकों को चुनाव में अपने प्रत्याशी के पक्ष में वोट डालने के लिए प्रेरित कर रहे थे। इससे वहां भीड़ लग गई। पुलिस को देखकर समर्थक नारेबाजी करने लगे। पुलिस के समझाने पर उग्र हो गए। उनके पास वाहन पास भी नहीं था। पास की अनुमति 23 मई को ही समाप्त हो गई थी। वाहन के अंदर सपा के झंडे मिले। इसी दौरान इनके समर्थक और नारेबाजी करते हुए पुलिस के खिलाफ मुर्दाबाद का नारा लगाने लगे और कहने लगे कि चुनाव का बहिष्कार कर रहे हैं तथा किसी भी मतदाता को अंदर जाकर वोट नहीं डालने देंगे। पुलिस फोर्स बुलाकर कानून व्यवस्था बहाल किया गया। पुलिस ने बताया कि उन्हें पूछताछ के लिए थाने ले गए थे।

तीन घंटे थाने में बैठे रहे, बेटे के आने पर गए

करीब चार बजे पूर्व सांसद रेवती रमण को पुलिस करेली थाने में बैठाई थी। इस दौरान पूर्व सांसद धर्मराज सिंह पटेल भी मिलने पहुंच गए। देखते ही देखते सपा और कांग्रेस के नेता व समर्थकों का जमावड़ा लग गया। कई थानों की पुलिस फोर्स भी बुला ली गई। करीब ढाई घंटे के बाद करेली पुलिस ने उन्हें रिहा कर दिया लेकिन पूर्व सांसद ने जाने से इनकार किया। इस दौरान उनके बेटे कांग्रेस प्रत्याशी उज्जवल रमण भी पहुंच गए। समर्थकों ने करेली थाने के बाहर जमकर नारेबाजी की। करीब तीन घंटे बाद सात बजे पूर्व सांसद अपने समर्थकों के साथ थाने से गए।

इन धाराओं में दर्ज हुआ केस

-आईपीसी 188

-आईपीसी 353

-आईपीसी 171-एफ

-लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की धारा -131

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।