ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रयागराजसरकारी अस्पतालों के ब्लड बैंक खाली

सरकारी अस्पतालों के ब्लड बैंक खाली

हाल के दिनों में रक्तदान नहीं होने से शहर के सरकारी अस्पतालों के ब्लड बैंक खाली हो गए हैं। इसकी वजह से गंभीर बीमारियों से ग्रसित मरीजों को अलग-अलग...

सरकारी अस्पतालों के ब्लड बैंक खाली
हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजFri, 01 Mar 2024 11:30 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज। हाल के दिनों में रक्तदान नहीं होने से शहर के सरकारी अस्पतालों के ब्लड बैंक खाली हो गए हैं। इसकी वजह से गंभीर बीमारियों से ग्रसित मरीजों को अलग-अलग ग्रुप का ब्लड नसीब नहीं हो पा रहा है। खून की कमी से जूझ रहे रोगी निजी पैथोलॉजी में भटकने के लिए विवश हैं। ब्लड बैंक प्रभारियों का कहना है कि हाल के कुछ दिनों में सामाजिक संस्थाओं के रक्तदान के लिए आगे नहीं आने की वजह से ब्लड बैंकों में खून की कमी आई है। देखा जाय तो मंडल के सबसे बड़े अस्पताल एसआरएन के ब्लड बैंक की क्षमता 1800 यूनिट है। लेकिन यहां इन दिनों मात्र 15 यूनिट ब्लड उपलब्ध है। ओ पॉजिटिव और सभी नेगेटिव ग्रुप के ब्लड का घोर अभाव है। इसी तरह 300 यूनिट क्षमता वाले बेली अस्पताल के ब्लड बैंक में 25 यूनिट और कॉल्विन में 30 यूनिट ब्लड उपलब्ध है। जबकि इन दोनों अस्पतालों में हर दिन 30-40 यूनिट ब्लड की डिमांड आ रही है। बेली अस्पताल के ब्लड बैंक प्रभारी उत्तम सिंह का कहना है कि नेगेटिव ग्रुप के ब्लड नहीं होने की वजह से हर दिन करीब 10-15 मरीजों को लौटाया जा रहा है। कॉल्विन अस्पताल के ब्लड बैंक के फॉर्मासिस्ट कुलदीप सिंह ने बताया कि ओ पॉजिटिव और नेगेटिव ग्रुप के ब्लड के नहीं होने से इस ग्रुप के रोगियों का ब्लड एक्सचेंज नहीं हो पा रहा है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें