DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  प्रयागराज  ›  AU: गिरफ्तारी की चेतावनी पर छात्रों का धरना खत्म
प्रयागराज

AU: गिरफ्तारी की चेतावनी पर छात्रों का धरना खत्म

हिन्दुस्तान टीम,प्रयागराजPublished By: Newswrap
Fri, 18 Jun 2021 05:01 AM
इलाहाबाद विश्वविद्यालय एवं कॉलेजों के सभी छात्र-छात्राओं को 60 फीसदी अंकों के साथ प्रोन्नत करने की मांग को लेकर एनएसयूआई की ओर से गुरुवार को भी...
1 / 2इलाहाबाद विश्वविद्यालय एवं कॉलेजों के सभी छात्र-छात्राओं को 60 फीसदी अंकों के साथ प्रोन्नत करने की मांग को लेकर एनएसयूआई की ओर से गुरुवार को भी...
इलाहाबाद विश्वविद्यालय एवं कॉलेजों के सभी छात्र-छात्राओं को 60 फीसदी अंकों के साथ प्रोन्नत करने की मांग को लेकर एनएसयूआई की ओर से गुरुवार को भी...
2 / 2इलाहाबाद विश्वविद्यालय एवं कॉलेजों के सभी छात्र-छात्राओं को 60 फीसदी अंकों के साथ प्रोन्नत करने की मांग को लेकर एनएसयूआई की ओर से गुरुवार को भी...

प्रयागराज। संवाददाता

इलाहाबाद विश्वविद्यालय एवं कॉलेजों के सभी छात्र-छात्राओं को 60 फीसदी अंकों के साथ प्रोन्नत करने की मांग को लेकर एनएसयूआई की ओर से गुरुवार को भी परीक्षा नियंत्रक कार्यालय पर धरना जारी रहा। देर शाम तक पुलिस अधिकारी और परीक्षा नियंत्रक प्रो. रमेंद्र कुमार सिंह, इविवि प्रॉक्टोरियल बोर्ड के सदस्य प्रो. केएन उत्तम, सुरक्षा अधिकारी अजय प्रताप सिंह ने छात्रओं को धरना समाप्त करने के लिए समझाते रहे लेकिन वह नहीं माने। बाद में सीओ ने जब सख्ती के साथ गिरफ्तार करने की बात कही तो छात्रों ने ज्ञापन देकर तकरीबन रात आठ बजे धरना समाप्त कर दिया।

ज्ञात हो कि एनएसयूआई से जुड़े सत्यम कुशवाहा समेत अन्य छात्र बुधवार से ही अपनी मांगों के समर्थन में परीक्षा नियंत्रक कार्यालय के सामने अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे थे। गुरुवार सुबह छात्रों ने परीक्षा नियंत्रक कार्यालय के गेट पर ही बैनर लगा दिया। सुबह परीक्षा नियंत्रक प्राक्टोरियल बोर्ड के सदस्यों के साथ पहुंचे और छात्रों को आश्वासन दिया कि उनकी मांगों पर विचार किया जाएगा, लेकिन वह धरना खत्म कर दें। इसके बाद भी छात्र नहीं हटे। अंतत: देर शाम धरना समाप्त हो गया। छात्रनेता अखिलेश यादव ने कहा कि परीक्षा नियंत्रक ने सभी मांगों को मानने का दिया आश्वासन है। इसलिए धरना समाप्त कर दिया गया है।

दिशा छात्र संगठन का प्रदर्शन

स्नातक प्रथम वर्ष व परास्नातक प्रथम सेमेस्टर के छात्रों को प्रोन्नत करने और स्नातक तृतीय वर्ष के छात्रों के लिए न्यूनतम 60 फीसदी अंक देने की मांग को लेकर दिशा छात्र संगठन ने भी छात्रसंघ भवन पर प्रदर्शन किया। संगठन के अविनाश ने बताया कि पिछले सत्र में विश्वविद्यालय में कक्षाओं का संचालन बहुत देर से शुरू हुआ और ऑनलाइन कक्षाएं चलने की वजह से बहुत से छात्र शामिल नहीं हो सके। ऐसे में प्रथम वर्ष के छात्रों को प्रमोट करने का भी फैसला लेना चाहिए। इस दौरान अभिषेक, धर्मराज, अंकित, हॢषत, चन्द्रप्रकाश, रजनीश, विकास, शिवा, नीशु, अंजलि, अमित आदि उपस्थित रहे।

संबंधित खबरें