DA Image
4 जनवरी, 2021|11:45|IST

अगली स्टोरी

एलटी ग्रेड अंग्रेजी के संशोधित परिणाम पर जवाब मांगा

default image

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एलटी ग्रेड अंग्रेजी विषय की भर्ती का परीक्षा परिणाम संशोधित कर प्रतीक्षा सूची के अभ्यर्थियों को मुख्य परिणाम में शामिल करने के मामले में माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के सचिव से दो सप्ताह में जवाब मांगा है। साथ ही कहा कि सचिव यदि जवाब दाखिल नहीं करते हैं तो उन्हें कोर्ट में हाजिर होना होगा। कोर्ट ने यह भी कहा है कि इस दौरान जो भी चयन किए जाएंगे, वे याचिका के अंतिम निर्णय पर निर्भर करेंगे।

यह आदेश न्यायमूर्ति विवेक अग्रवाल ने संजीव कुमार व अन्य की याचिका पर दिया है। परीक्षा में सफल ओबीसी के कई अभ्यर्थियों ने परिणाम संशोधित कर धांधली का आरोप लगाते हुए याचिका दाखिल की है। उनका कहना है की वर्ष 2016 की एलटी ग्रेड भर्ती का अंतिम परिणाम 28 फरवरी 2020 को घोषित किया गया। याची ओबीसी कैटेगरी में चयनित हो गए। उसके बाद 18 मार्च को चयन बोर्ड ने क्षैतिज आरक्षण में हुई गड़बड़ियों को दुरुस्त करते हुए संशोधित परिणाम जारी किया। संशोधित परिणाम के साथ कट ऑफ लिस्ट जारी करते हुए पूरा रिजल्ट संशोधित कर दिया गया। याचिका में कहा गया है कि संशोधित परिणाम में कई ओबीसी अभ्यर्थी जिनका चयन सामान्य वर्ग की सीटों पर हुआ था, वे ओबीसी कैटेगरी में वापस चले गए जबकि याची सहित 25 अभ्यर्थी प्रतीक्षा सूची में आ गए और प्रतीक्षा सूची में शामिल 24 अभ्यर्थी मुख्य परिणाम में आ गए। याचियों का कहना है यदि प्रतीक्षा सूची में शामिल अभ्यर्थियों को अधिकतम अंक प्राप्त हुए थे तो पहले ही उनका नाम चयन सूची में क्यों नहीं आ गया। याचिका में संशोधित परिणाम रद्द करने की मांग की गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Asked for answers on revised result of LT grade English