DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिसकी हत्या का आरोप, वह जिंदा लौटी

ससुराल से लापता बेटी की हत्या करने और उसकी लाश गायब करने आरोप लगाया गया है। मायके वालों ने पुलिस को नामजद तहरीर दी है। हालांकि एक घंटे बाद ही युवती सकुशल घर पहुंच गई।

संग्रामगढ़ थानाक्षेत्र के डांक बंगला मजरे अशोग गांव के कृपाशंकर ने तहरीर देकर आरोप लगाया था कि उनकी बेटी अंशु की शादी पांच साल पहले डिहवा रैय्यापुर गांव के विजय कुमार के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही ससुरालवाले दहेज के लिए अंशु को प्रताड़ित करते थे। 24 जुलाई को दहेज के लिए उनकी बेटी को मार कर गायब कर दिया। पति, सास, ससुर समेत कई के खिलाफ तहरीर दी।

पुलिस अंशु की ससुराल जांच करने पहुंची। इसके बाद पुलिस ने वादी के रिश्तेदार को बिठा लिया। उसके बिठाते ही शनिवार की शाम फोन आया की अंशु घर आ गई है। कोतवाली में अंशु ने बताया कि पति शराब पीकर मारता है इसलिए घर से चली गई थी। पांच दिन वह कहां रही यह उसने नहीं बताया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:who is called killed, return alive