ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश प्रतापगढ़ - कुंडाएसडीएम के आश्वासन पर ढाई घंटे बाद उठा शव

एसडीएम के आश्वासन पर ढाई घंटे बाद उठा शव

सड़क हादसे में विवाहित की मौत हो गई थी। उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में चीत्कार मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया।...

सड़क हादसे में विवाहित की मौत हो गई थी। उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में चीत्कार मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया।...
1/ 3सड़क हादसे में विवाहित की मौत हो गई थी। उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में चीत्कार मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया।...
सड़क हादसे में विवाहित की मौत हो गई थी। उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में चीत्कार मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया।...
2/ 3सड़क हादसे में विवाहित की मौत हो गई थी। उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में चीत्कार मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया।...
सड़क हादसे में विवाहित की मौत हो गई थी। उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में चीत्कार मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया।...
3/ 3सड़क हादसे में विवाहित की मौत हो गई थी। उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में चीत्कार मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया।...
हिन्दुस्तान टीम,प्रतापगढ़ - कुंडाMon, 27 May 2024 10:15 PM
ऐप पर पढ़ें

बाघराय, हिन्दुस्तान संवाद। सड़क हादसे में विवाहित की मौत हो गई थी। उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में चीत्कार मच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। ग्रामीणों को समझाने पहुंची पुलिस की ग्रामीणों से नोकझोक भी हुई। एसडीएम के मदद के आश्वासन पर ढाई घंटे बद शव उठा तो सड़क से जाम हटा।
बाघराय थाना क्षेत्र के लोसनापुर गांव निवासी अनिल कुमार की पत्नी मंजू देवी अपने मायके कुंडा के अल्पी का पुरवा ताजपुर सरियावां गांव गई थी। रविवार को मंजू का पिता दिलीप कुमार बेटी को बाइक से लोसनापुर पहुंचाने जा रहा था। छेंवगा नहर के पास तेज रफ्तार वाहन से कुचलकर मंजू की मौत हो गई। जबकि उसके पिता दिलीप को गंभीर चोटें आईं। सोमवार को दो बजे पोस्टमार्टम के बाद शव घर पहुंचा तो आक्रोशित ग्रामीणों ने गांव के सामने लालगोपालगंज-जेठवारा मार्ग पर विवाहिता का शव रखकर जाम लगा दिया। पुलिस पहुंची और शव हटवाने का प्रयास किया तो नोकझोक हो गई। ग्रामीण एसडीएम को बुलाने की मांग करने लगे। शाम करीब पांच बजे एसडीएम भरतराम यादव पहुंचे तो विवाहिता के पति ज्ञापन दिया। ज्ञापन में 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद, दो बीघे जमीन का पट्टा, आरोपित के खिलाफ कार्रवाई, पारिवारिक लाभ योजना, किसान बीमा योजना दिलाने की मांग की गई। एसडीएम ने हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिया तो ग्रामीण पांच बजे सड़क से शव उठाकर अंतिम संस्कार को ले गए।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।