DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश प्रतापगढ़ - कुंडापुरानी पेंशन के लिए गरजे शिक्षक-कर्मचारी

पुरानी पेंशन के लिए गरजे शिक्षक-कर्मचारी

हिन्दुस्तान टीम,प्रतापगढ़ - कुंडाNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 06:01 PM
पुरानी पेंशन बहाली समेत विभिन्न मांगों को लेकर जिले के शिक्षक और कर्मचारियों ने गुरुवार को कलक्ट्रेट में सभाकर अपनी आवाज बुलंद की। सभा में वक्ताओं...
1/ 2पुरानी पेंशन बहाली समेत विभिन्न मांगों को लेकर जिले के शिक्षक और कर्मचारियों ने गुरुवार को कलक्ट्रेट में सभाकर अपनी आवाज बुलंद की। सभा में वक्ताओं...
पुरानी पेंशन बहाली समेत विभिन्न मांगों को लेकर जिले के शिक्षक और कर्मचारियों ने गुरुवार को कलक्ट्रेट में सभाकर अपनी आवाज बुलंद की। सभा में वक्ताओं...
2/ 2पुरानी पेंशन बहाली समेत विभिन्न मांगों को लेकर जिले के शिक्षक और कर्मचारियों ने गुरुवार को कलक्ट्रेट में सभाकर अपनी आवाज बुलंद की। सभा में वक्ताओं...

प्रतापगढ़। पुरानी पेंशन बहाली समेत विभिन्न मांगों को लेकर जिले के शिक्षक और कर्मचारियों ने गुरुवार को कलक्ट्रेट में सभाकर अपनी आवाज बुलंद की। सभा में वक्ताओं ने कहा कि जब तक मांगें पूरी नहीं की जाएंगी, इसी तरह संघर्ष जारी रहेगा। शिक्षक व कर्मचारी धरना-प्रदर्शन के माध्यम से शासन प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते रहेंगे।

गुरुवार सुबह कर्मचारी, शिक्षक पेंशन मंच प्रतापगढ़ के बैनरतले जिलेभर के शिक्षकों और कर्मचारियों का जमावड़ा कलक्ट्रेट में हुआ। कर्मचारी व शिक्षकों ने नई पेंशन व्यवस्था वापस लेने और पुरानी पेंशन लागू करने की मांग करते हुए आवाज बुलंद की। अध्यक्षता करते हुए रमाशंकर शुक्ल ने कहा कि पेंशन हमारा अधिकार है, हम इसे लेकर रहेंगे। शिक्षक, कर्मचारियों के हित में हमने जो मांगे रखी हैं उनके लिए हम कटिबद्ध हैं। जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं हो जाती संघर्ष जारी रहेगा।

प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलामंत्री विनय सिंह ने कहा कि सभी कर्मचारियों को सेवाकाल में 600 दिन का उपार्जित अवकाश दिया जाए। सरकारी कार्य के लिए वाहन का प्रयोग करने पर वाहन भत्ता दिया जाए। माध्यमिक तदर्थ शिक्षकों का अद्यतन विनयमितीकरण किया जाए। प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय प्रधानाध्यापक पद पर पदोन्नत करते हुए संविलियन की व्यवस्था समाप्त की जाए। प्रत्येक परिषदीय विद्यालय में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की तैनाती की जाए। आंगनबाड़ी कार्यकत्री, कम्प्यूटर आपरेटर व तकनीकी सहायकों का मानदेय 15 हजार रुपये किया जाए। शिक्षामित्रों को सहायक अध्यापक पद पर तैनात किया जाए।

सुनील प्रभाकर ने कहा कि मांगों को प्राप्त करना हमारा अधिकार है। राजेश पांडेय ने कहा कि अब आर-पार की लड़ाई होगी। उन्होंने अभी नहीं तो कभी नहीं का ऐलान करते हुए कहा कि अब शासन हमारी आवाज दबा नहीं सकता। इसके अलावा अनिल कुमार सिंह, विनोद कुमार चौरसिया, केडी त्रिपाठी ने भी धरने को सम्बोधित किया। इस दौरान मनोकानिका उपाध्याय, सुनील प्रभाकर, रामचन्द्र सिंह, बालेन्द्र शुक्ल, रामानंद मिश्र, पंकज तिवारी, विजय मिश्र, अनूप सिंह, जितेन्द्र कुमार, रागिनी तिवारी, विजयप्रताप सिंह, सुधीर सिंह, अकबाल, हरिशंकर आदि मौजूद रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें