DA Image
31 मार्च, 2020|4:03|IST

अगली स्टोरी

स्कूली बस पलटी, दर्जनभर बच्चे घायल

बच्चों को लेकर जा रही स्कूल बस नहर पटरी पर अनियंत्रित होकर पलट गई। करीब एक दर्जन बच्चे घायल हो गए। चार की हालत गंभीर होने पर निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। हादसे के बाद ड्राइवर भाग निकला।

प्रयागराज के शृंग्वेरपुर स्थित प्रयाग पब्लिक स्कूल में इलाके के कई बच्चे पढ़ते हैं। उनको ले जाने के लिए स्कूल प्रबंधन की ओर से बस चलाई गई है। बस मोहन्दापुर से गौरा, फूलपुर मौरी, बिहार, रामपुर कोटवा तक के बच्चों को बिठाते हुए स्कूल जाती है। गुरुवार को प्राइमरी कक्षाएं बंद होने से कक्षा 6 से 10 तक के बच्चों को ही जाना था। बस ड्राइवर बच्चा शर्मा निवासी बिहार, रामपुर कोटवा में बच्चों को बिठाने के बाद निर्धारित रास्ते से न जाकर शॉर्टकट से जमलामऊ होते हुए जाने लगा। जमलामऊ नहर पटरी पर गड्ढ़े के कारण बस पलट गई। बताते हैं कि बस में 30 बच्चे सवार थे। बच्चों की चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग दौडे़। दरवाजा नीचे की ओर बंद होने से बच्चों के निकलने का कोई रास्ता नहीं था। ग्रामीण बस के आगे लगे शीशे को तोड़कर भीतर घुसे और सभी को बाहर निकाला। करीब एक दर्जन बच्चों को चोटें आई थीं। कक्षा नौ की रिया मिश्रा (15) पुत्री अजयकांत मिश्रा, रिचा मिश्रा (15) पुत्री आलोक मिश्रा निवासी गौरा, अंकिता यादव (14) पुत्री पवन कुमार यादव निवासी मोहन्दापुर, प्रज्ञा मिश्रा (12) पुत्री रमाकांत मिश्रा निवासी रामपुर कोटवा को गंभीर चोटें आईं। ग्रामीणों ने बिहार बाजार के निजी अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया। रिया को सीएचसी कुंडा रेफर कर दिया गया।

इन्हें भी आईं चोटें : हादसे में अंश पाण्डेय पुत्र दीपक निवासी शुक्लपुर, क्षितिज सिंह पुत्र ओम प्रकाश निवासी कालू सिंह का पुरवा, विशप द्विवेदी पुत्र प्रदीप निवासी बिसनाही, अंश त्रिपाठी पुत्र दुर्गेश त्रिपाठी निवासी रामपुर कोटवा, रोहित, मोहित, अतुल, दीपिका आदि को भी चोटें आईं। घटना के बाद ड्राइवर और खलासी भाग निकले। पुलिस मौके पर पहुंची और स्कूल प्रबंधन को सूचना दी। एसओ रवीन्द्र सिंह यादव का कहना है कि घायल सभी बच्चे खतरे से बाहर हैं। अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। यदि कोई अभिभावक तहरीर देता है तो रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।