DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रतापगढ़ में पानी के लिए बाल्टी व डिब्बा लेकर प्रदर्शन

नगर पंचायत प्रतापगढ़ सिटी में पेयजल संकट गहरा गया है। हैंडपंप पहले से ही खराब हैं। पांच दिन पूर्व मोटर भी जल गई। इससे लोगों को पीने का भी पानी नहीं मिल रहा है। उन्होंने इसकी शिकायत भी की, लेकिन ध्यान नहीं दिया गया। बुधवार को लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने हाथ में बाल्टी व डिब्बा लेकर नगर पंचायत कार्यालय पर प्रदर्शन किया। नगर पंचायत प्रशासन के खिलाफ नारे भी लगाए। नगर पंचायत प्रतापगढ़ सिटी में 50 से अधिक हैंडपंप व 26 सबमर्सिबल पंप लगवाए गए हैं। इसमें से ज्यादातर हैंडपंप कई महीने से खराब हैं। 12 सबमर्सिबल पंप भी खराब हैं। इससे बाजार खास, चकफतेह अली शाह, सोनार मोहल्ले में पेयजल का संकट गहरा गया है। लोगों ने इसकी शिकायत कई बार सभासद के साथ नगर पंचायत प्रशासन से की लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया गया। नगर पंचायत प्रशासन की इस उदासीनता पर बुधवार को लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। बड़ी संख्या में लोग अपने हाथ में बाल्टी व डिब्बा लेकर नगर पंचायत कार्यालय प्रतापगढ़ सिटी पहुंचे और प्रदर्शन किया। इस दौरान लोगों ने नगर पंचायत और चेयरमैन के खिलाफ मुर्दाबाद के भी नारे लगाए। मो. रईस, जकी खान, मो. शारिक, रामनेवाज, राम कुमार, मुख्तार आदि का कहना है कि हैंडपंप के साथ खराब मोटर पंपों की मरम्मत के लिए कई बार गुजारिश की गई, लेकिन आज तक हैंडपंप व मोटर को दुरुस्त नहीं कराया गया। उन्होंने आरोप लगाया है कि प्रत्येक सबमर्सिबल पंप 87 हजार रुपये की लागत से लगाया गया है। लेकिन कमीशनबाजी और घटिया क्वालिटी की मोटर लगाए जाने से वह चंद दिनों में ही खराब हो गई है जिससे लोगों को पेयजल के लिए भटकना पड़ रहा है। इनका कहना है-- नगर पंचायत के सभी वार्डों में पेयजल के लिए हैंडपंप के अलावा दो-दो सबमर्सिबल पंप लगवाए गए हैं। वार्ड नम्बर 10 बाजार खास में तीन सबमर्सिबल पंप हैं। बावजूद इसके लोग पानी की समस्या की शिकायत कर रहे हैं। यदि सबमर्सिबल पंप खराब है तो उसकी जांच कराकर उसे चालू कराया जाएगा। --ऊषा मौर्या, चेयरमैन, नगर पंचायत, प्रतापगढ़ सिटी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Protesting for wate