अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपहर्ताओं ने अपहृत को बताया एटीएम चोर

अपहर्ताओं ने अपहृत को बताया एटीएम चोर

इलाहाबाद के फूलपुर से बाइक सवार युवक को अगवा कर भागे और प्रतापगढ़ के चिलबिला में पुलिस मुठभेड़ में पकड़े गए आरोपितों ने चौंकाने वाली बात कही है। अपहृत युवक को आरोपित एटीएम चोर बता रहे हैं। हालांकि पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही है। तीनों गिरफ्तार आरोपितों को जेल भेजकर पुलिस फरार हुए तीनों आरोपितों की तलाश में पट्टी के रायपुर में दबिश दे रही है।मऊआइमा इलाके के चौहान का पुरवा निवासी मो. दरगाही का बेटा जमील अहमद मंगलवार को रिश्तेदारी से लौट रहा था। फूलपुर थाना क्षेत्र में उग्रसेनपुर के पास कार सवार छह बदमाशों ने उसे जबरन कार में बिठा लिया और उसकी बाइक भी दो बदमाश लेकर चलने लगे। इसके बाद बदमाशों ने जमील के फोन से उसके दोस्त जय प्रकाश चौहान को फोन कर एक लाख रुपये की फिरौती मांगी। जय प्रकाश ने रकम अधिक बताई तो बदमाश उससे 50 हजार रुपये मांगने लगे। पचास हजार रुपये लेकर जय प्रकाश बदमाशों के बताए गए स्थान प्रतापगढ़ के रानीगंज आया। फिर बदमाशों ने फोन कर जय प्रकाश को भुपियामऊ उसके बाद फिर चिलबिला बुलाया। जय प्रकाश की सूचना पर रानीगंज पुलिस सक्रिय हुई और गोंड़े गांव के पास मुठभेड़ में तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जबकि तीन भाग निकले। पकड़े गए बदमाशों में एक ने अपना नाम दिनेश सेन निवासी मऊ थाना सिरमौल जिला रीवा, दूसरे ने नीरज कुमार निवासी रायपुर थाना पट्टी, तीसरे ने दीपक पाठक निवासी रायपुर बताया। फरार हुए बदमाश का नाम संतोष पाठक व सुनील पाल निवासीगण रायपुर पट्टी तथा रोहित अग्निहोत्री निवासी मऊ थाना सिरमौल जिला रीवा मध्य प्रदेश बताया। आरोपितों ने पुलिस को बताया कि जमील एटीएम से धोखाधड़ी कर लोगों के रुपये निकालता है। उन लोगों ने उसे पहचान लिया इसलिए उसे पकड़कर उसके साथियों को फोन कर एटीएम से निकाले गए रुपये वापस मांग रहे थे। लेकिन पुलिस को एटीएम ठगी की कहानी हजम नहीं हो रही है।

इनका कहना है

एटीएम से रुपये निकालने के बारे में उग्रसेनपुर व फूलपुर में पता कराया गया लेकिन ऐसी किसी घटना की पुष्टि नहीं हुई। इसलिए पुलिस अभी अपहृत को एटीएम चोर नहीं बल्कि पीड़ित मान रही है।-पूर्णेन्दु सिंह, एएसपी

बाइक व कार में टक्कर !प्रतापगढ़।

फूलपुर व उग्रसेनपुर के आसपास पुलिस ने घटना के बारे में छानबीन की तो एक चर्चा यह होने लगी कि जमील की बाइक अपहर्ताओं की कार से टकरा गई तो अपहर्ताओं ने जमील को जबरन अपनी कार में बिठा लिया। पुलिस का मानना है कि यदि बाइक व कार में टक्कर का मामला होता तो बदमाश सिर्फ जमील को कार पर लादकर ले जाते, उसकी बाइक ले जाने की जरूरत नहीं थी। इस घटना में कार से उतरे दो बदमाश जमील की बाइक भी लेकर चले गए थे जिसे पुलिस ने मुठभेड़ के बाद बरामद किया।

वायरल हुआ अपहृत का वीडियो

प्रतापगढ़। अपहरण व मुठभेड़ के मामले में बुधवार को व्हाट्सएप पर एक वीडियो वायरल हुआ। उसमें अपहृत के हाथ में कई एटीएम कार्ड व दो हजार रुपये के नोट हैं। वीडियो में कुछ लोग घुड़की देकर जमील को एटीएम से 50 हजार रुपये चोरी की बात कबूल करने को कह रहे हैं। एसपी देवरंजन वर्मा का कहना है कि जब आरोपितों को गिरफ्तार कर अपहृत को छुड़ाया गया तो उसके पास एक भी एटीएम कार्ड नहीं था। वीडियो में जमील के हाथ में कई एटीएम कार्ड दिख रहे हैं। इसलिए पुलिस वीडियो को संदिग्ध मान रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hijackers told ATM Thieves