Gurkushheet chanted the whole night in the fair - गुरुखेत में मेले में पूरी रात चली झाड़फूंक DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरुखेत में मेले में पूरी रात चली झाड़फूंक

गुरुखेत में मेले में पूरी रात चली झाड़फूंक

बेल्हा देवी पुल के बगल सई नदी के किनारे सोमवार रात सम्पन्न हुए गुरुखेत मेला में पूरी रात झाड़-फूंक चलती रही। मान्यता के मुताबिक श्रद्धालुओं ने चादर चढ़ाकर गाजी मियां से मुरादें पूरी करने की गुजारिश की।

वर्ष में एक बार गाजी मियां के विवाह से पांच दिन पूर्व बेल्हा में सई नदी किनारे गुरुखेत मेला लगता है। सोमवार रात सम्पन्न हुए मेले की शुरुआत रात करीब नौ बजे जवाबी कव्वाली से हुई। इसके बाद शुरू हुआ झाड़ फूंक का दौर। मेले में जुटे तंत्र-मंत्र करने वाले लोग बीमारों को ठीक करने का दावा करते हुए पूरी रात कवायद करते रहे। मंगलवार भोर करीब चार बजे सम्पन्न हुए मेले में जिले के कोने कोने से लोग जुटे थे। यही नही यह दावा भी किया जा रहा था कि महीनों से बीमार लोग गुरुखेत मेले में स्वस्थ हो गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Gurkushheet chanted the whole night in the fair