DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › प्रतापगढ़ - कुंडा › चुनावी रंजिश में फायरिंग व बमबाजी, एक की मौत 6 घायल
प्रतापगढ़ - कुंडा

चुनावी रंजिश में फायरिंग व बमबाजी, एक की मौत 6 घायल

हिन्दुस्तान टीम,प्रतापगढ़ - कुंडाPublished By: Newswrap
Wed, 21 Jul 2021 05:01 AM
चुनावी रंजिश में दो पक्षों में जमकर फायरिंग व बमबाजी हुई। इसमें 2 लोग गोली लगने से और 5 लोग कुल्हाड़ी व लाठी से घायल हो गए। बमबाजी से दरवाजा टूट गया।...
1 / 2चुनावी रंजिश में दो पक्षों में जमकर फायरिंग व बमबाजी हुई। इसमें 2 लोग गोली लगने से और 5 लोग कुल्हाड़ी व लाठी से घायल हो गए। बमबाजी से दरवाजा टूट गया।...
चुनावी रंजिश में दो पक्षों में जमकर फायरिंग व बमबाजी हुई। इसमें 2 लोग गोली लगने से और 5 लोग कुल्हाड़ी व लाठी से घायल हो गए। बमबाजी से दरवाजा टूट गया।...
2 / 2चुनावी रंजिश में दो पक्षों में जमकर फायरिंग व बमबाजी हुई। इसमें 2 लोग गोली लगने से और 5 लोग कुल्हाड़ी व लाठी से घायल हो गए। बमबाजी से दरवाजा टूट गया।...

जामताली। हिन्दुस्तान संवाद

चुनावी रंजिश में दो पक्षों में जमकर फायरिंग व बमबाजी हुई। इसमें 2 लोग गोली लगने से और 5 लोग कुल्हाड़ी व लाठी से घायल हो गए। बमबाजी से दरवाजा टूट गया। घटना की जानकारी होते ही कई थानों की फोर्स व पीएसी लेकर एसपी, एएसपी व सीओ मौके पर पहुंच गए। घायलों को अस्पताल भेजकर गांव में फोर्स तैनात कर दी गई। घायल बुजुर्ग की अस्पताल में मौत हो गई। अस्पताल में परिजनों ने विधायक, डीएम व एसपी को बुलाने की मांग करते हुए काफी देर तक हंगामा किया।

रानीगंज थानाक्षेत्र के दहेरकला निवासी रणजीत सिंह उर्फ राजू का भाई शिव नारायन सिंह इस बार पूर्व प्रमुख विनोद दुबे के प्रत्याशी को हराकर बीडीसी सदस्य का चुनाव जीता है। इसके बाद प्रमुखी के चुनाव में भी वह विनोद दुबे के विपक्षी प्रत्याशी की तरफ था। रामपुर अधारगंज निवासी अभिषेक उर्फ नन्हकाई (25) रानीगंज सीएचसी में संविदाकर्मी होने के साथ विनोद दुबे के यहां आटा चक्की आदि चलाने का काम भी करता है। बताया जाता है कि मंगलवार सुबह करीब 10:30 बजे अभिषेक रणजीत उर्फ राजू सिंह के घर के पास से गुजरा तो किसी बात पर विवाद हो गया।

आरोप है कि अभिषेक को बंधक बना लिया गया। उसको छुड़ाने मनोजधर दुबे उर्फ मिंटू (25) निवासी सचौली थाना रानीगंज पहुंचे। वहां आरोपित ने उनके सीने के पास गोली मार दी। इसके बाद दोनों तरफ से काफी संख्या में लोग आमने-सामने हो गए। पिस्टल, तमंचे, व बंदूक से फायरिंग के साथ बमबाजी भी होने लगी। जिनके हाथ में असलहे नहीं थे वे कुल्हाड़ी व लाठी से मारपीट करने लगे। इलाके में हड़कंप मच गया और लोग अपने घरों में दुबक गए। काफी देर तक चली फायरिंग व बमबाजी के बाद पुलिस पहुंची तो एक पक्ष से मनोजधर दुबे व अभिषेक व दूसरे पक्ष से रणजीत सिंह उर्फ राजू (50) निवासी दहेरकला थाना रानीगंज, भानु सिंह (52) निवासी प्रजापतिपुर थाना रानीगंज, राजू सिंह का भांजा हिमांशु सिंह (22) निवासी देवसढ़ा थाना सांगीपुर, राजेश सिंह की पत्नी आशा सिंह (35) निवासी दहेरकला व रणजीत उर्फ राजू सिंह के पिता अनिरुद्ध बहादुर सिंह (75) घायल हो गए।

मनोजधर दुबे के सीने के पास और भानु सिंह के बाएं पैर में घुटने के नीचे गोली लगी है। हिमांशु सिंह के सिर में कुल्हाड़ी लगी। अन्य घायल मारपीट में चोटहिल बताए जा रहे हैं। रानीगंज थाने के दरोगा धीरेंद्र ठाकुर ने मौके पर पहुंचकर घायलों को अस्पताल भेजा। राजकीय मेडिकल कालेज में मनोजधर दुबे की हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने प्रयागराज रेफर कर दिया। एसपी सतपाल अंतिल, एएसपी पूर्वी सुरेन्द्र प्रसाद द्विवेदी व सीओ रानीगंज के साथ मौके पर पहुंच गए। काफी देर तक एसपी ने खुद मौके पर छानबीन की। गांव में एहतियातन पुलिस व पीएसी तैनात की गई है। उधर, राजकीय मेडिकल कालेज में अनिरुद्ध बहादुर सिंह, राजू व हिमांशु को भी डॉक्टरों ने प्रयागराज रेफर कर दिया। लेकिन एम्बुलेंस के इंतजार के दौरान अनिरुद्ध बहादुर सिंह की मौत हो गई। हालांकि उन्हें ज्यादा चोट नहीं थी लेकिन घटना के बाद से उनकी सांस तेज चल रही थी। आक्रोशित परिजनों ने काफी देर तक हंगामा किया।

संबंधित खबरें