DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश प्रतापगढ़ - कुंडाकिसान निराश, बिना डीएपी कर दी बोआई

किसान निराश, बिना डीएपी कर दी बोआई

हिन्दुस्तान टीम,प्रतापगढ़ - कुंडाNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 11:10 PM
किसान निराश, बिना डीएपी कर दी बोआई

प्रतापगढ़। गेहूं की बोआई के लिए परेशान किसान अब डीएपी का इंतजार करके थक चुके हैं। साधन सहकारी समिति के साथ ही निजी दुकानों से भी डीएपी न मिलने के कारण कई किसानों ने गेहूं की बोआई कर दी।

जेठवारा इलाके के लक्ष्मीगंज निवासी रामसिंह का कहना है कि उन्होंने डीएपी के लिए ऐसी दिक्कत कभी नहीं देखी थी। साधन सहकारी समितियों पर पहले भी कई बार डीएपी नहीं आती थी लेकिन दुकानों से अधिक दाम पर मिल जाती थी। इस बार तो कहीं नहीं मिल रही है और किसानों को बिना डीपी के ही गेहूं की बोआई करनी पड़ रही है।

मानधाता के सराय नाहरराय निवासी रामकुबेर पांडेय ने कहा कि धान पकने के समय हुई बारिश के कारण फसल देर से कटी। किसान बिना खेत में पानी भरे ही गेहूं की बोआई करने लगे लेकिन डीएपी न मिलने से उनके अरमानों पर पानी फिर गया। इलाके की समितियों पर एक बार डीएपी आई थी लेकिन वह दो घंटे में ही खत्म हो गई। उड़ैयाडीह के राजेश सिंह ने बताया कि इलाके में गेहूं प्रमुखता से बोया जाता है। इस बार भी किसानों ने तैयारी कर ली थी लेकिन समय से डीएपी नहीं मिल सकी। जिन लोगों को एक बोरी मिली थी वे उतनी ही डीएपी अधिक खेत में डालकर गेहूं की बोआई कर दिए। साल्हीपुर के सुभाष मिश्र ने बताया कि उनके इलाके के किसान कंधई मधुपुर और मदाफरपुर की समिति से डीएपी लेते हैं। कंधई मधुपुर में अब तक डीएपी आई ही नहीं । मदाफरपुर में कब आई, वितरित कर दी गई पता ही नहीं चल सका। ऐसे में कई लोगों ने बिना डीएपी के ही गेहूं की बोआई कर दी है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें