DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंत्री-डीएम को बुलाने की मांग पर पड़ा रहा शव

मंत्री-डीएम को बुलाने की मांग पर पड़ा रहा शव

1 / 4आसपुर देवसरा के कादीपुर किलाई में हमले में घायल दुकानदार की मौत के बाद उसका शव दूसरे दिन घर पर ही पड़ा रहा। परिजन व ग्रामीण मंत्री और डीएम को मौके पर बुलाने की मांग करते रहे। एसडीएम व सीओ के आश्वासन...

मंत्री-डीएम को बुलाने की मांग पर पड़ा रहा शव

2 / 4आसपुर देवसरा के कादीपुर किलाई में हमले में घायल दुकानदार की मौत के बाद उसका शव दूसरे दिन घर पर ही पड़ा रहा। परिजन व ग्रामीण मंत्री और डीएम को मौके पर बुलाने की मांग करते रहे। एसडीएम व सीओ के आश्वासन...

मंत्री-डीएम को बुलाने की मांग पर पड़ा रहा शव

3 / 4आसपुर देवसरा के कादीपुर किलाई में हमले में घायल दुकानदार की मौत के बाद उसका शव दूसरे दिन घर पर ही पड़ा रहा। परिजन व ग्रामीण मंत्री और डीएम को मौके पर बुलाने की मांग करते रहे। एसडीएम व सीओ के आश्वासन...

मंत्री-डीएम को बुलाने की मांग पर पड़ा रहा शव

4 / 4आसपुर देवसरा के कादीपुर किलाई में हमले में घायल दुकानदार की मौत के बाद उसका शव दूसरे दिन घर पर ही पड़ा रहा। परिजन व ग्रामीण मंत्री और डीएम को मौके पर बुलाने की मांग करते रहे। एसडीएम व सीओ के आश्वासन...

PreviousNext

आसपुर देवसरा के कादीपुर किलाई में हमले में घायल दुकानदार की मौत के बाद उसका शव दूसरे दिन घर पर ही पड़ा रहा। परिजन व ग्रामीण मंत्री और डीएम को मौके पर बुलाने की मांग करते रहे। एसडीएम व सीओ के आश्वासन के बाद भी लोग मानने को तैयार नहीं हुए। ऐसे में शाम तक उसका अंतिम संस्कार नहीं हो सका।

कादीपुर किलाई निवासी अमर बहादुर मौर्य (50) गांव में किराने की दुकान चलाता था। रविवार शाम गांव के माता प्रसाद उर्फ राजा सिंह से माचिस मांगने को लेकर उसका विवाद हुआ। बाद में राजा सिंह ने अमर बहादुर के सिर पर लाठी से प्रहार कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया। सोमवार को प्रयागराज में उसकी मौत हो गई। जानकारी मिलते ही गांव के लोगों के साथ ही रिश्तेदार भी जमा हो गए। लोगों ने आरोपित की गिरफ्तारी, मृतक की पत्नी को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिए जाने की मांग पर शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया। जानकारी मिलते ही एसडीएम पट्टी विनोद कुमार सिंह, सीओ जिलाजीत मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाने का प्रयास करने लगे। ग्रामीण कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ‘मोती व डीएम मार्कण्डेय शाही को मौके पर बुलाने की मांग करने लगे। इस दौरान मृतक की पत्नी नीलम मौर्य की ओर से एसडीएम को चार सूत्री ज्ञापन दिया गया। एसडीएम ने अमर बहादुर मौर्य की पत्नी के ज्ञापन की सभी मांगें मानते हुए कहा कि वह इसके अलावा भी सहायता दिलाएंगे। इसके बाद भी लोग शव का अंतिम संस्कार करने को राजी नहीं हुए। गर्मी में शव खराब न हो जाए इसके लिए उसे लकड़ी का ताबूत बनाकर बर्फ डालकर उसमें रख दिया। मंत्री मोती सिंह के मीडिया प्रभारी विनोद पांडेय ने भी परिजनों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वे कुछ मानने को तैयार नहीं हुए।

.....

सपाइयों का प्रतिनिधि मंडल पहुंचा

ढकवा। अमर बहादुर मौर्य की हत्या की जानकारी पर सपा का प्रतिनिधि मंडल मौके पर पहुंचा। पूर्व मंत्री ललई सिंह के साथ गए प्रतिनिनिध मंडल में शामिल नेताओं ने घटना पर रोष जताया। लोगों ने अमर बहादुर के परिजनों से बातकर उन्हें शव का अंतिम संस्कार करने के लिए मनाने का प्रयास किया। हालांकि परिजन किसी की बात मानने को तैयार नहीं हुए। इस दौरान सपा जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमोद मौर्य, पूर्व विधायक अरुण कुमार वर्मा, विजय यादव, सभापति यादव, मो. आसिफ, इरशाद सिद्दीकी, पप्पू यादव, लालबहादुर यादव, रमाशंकर यादव, जय मौर्य आदि मौजूद रहे।

.....

एफआईआर के डर से नहीं लगाया जाम

ढकवा। हमले में घायल अमर बहादुर मौर्य की मौत के बाद मंगलवार सुबह इलाके के लोग बड़ी संख्या में मौके पर पहुंच गए थे। वे सुबह लखनऊ-वाराणसी हाईवे पर शव रखकर जाम लगाना चाह रहे लेकिन कुछ लोगों ने मना कर दिया। कहा कि जाम लगाने पर पुलिस एफआईआर लिख देगी और बाद में मुश्किल होगी। ऐसे में लोगों ने शव घर पर रखने का निर्णय लिया।

नामजद फरार, तीन करीबी हिरासत में

ढकवा। अमर बहादुर पर हमले के बाद पुलिस ने माता प्रसाद उर्फ राजा सिंह के खिलाफ एनसीआर दर्ज की थी। उसकी मौत की जानकारी मिलने के बाद पुलिस राजा सिंह की तलाश करने लगी तो वह फरार था। ऐसे में पुलिस ने उसके घर दबिश देकर तीन करीबियों को हिरासत में ले लिया। बाद में कुछ संदिग्ध ठिकानों पर दबिश दी लेकिन राजा सिंह नहीं मिल सका।

इनका कहना है

मारपीट में घायल की मौत का मुकदमा तरमीम करके नामजद आरोपित को जेल भेजा जाएगा। उसकी तलाश में दबिश दी जा रही है। मृतक के परिजनों ने आर्थिक सहायता की मांग पर शव का अंतिम संस्कार नहीं किया। अधिकारी उन्हें मनाने का प्रयास कर रहे हैं।

अवनीश मिश्र

एएसपी पूर्वी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:dead body in road on Demand for calling Minister-DM