DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संविदाकर्मियों की हड़ताल से बंद रहे बिजली बिल काउंटर

संविदाकर्मियों की हड़ताल से बंद रहे बिजली बिल काउंटर

विद्युत विभाग में संविदा पर तैनात कम्प्यूटर ऑपरेटर और मीटर रीडर गुरुवार को बकाया मानदेय के भुगतान की मांग पर हड़ताल पर रहे। इससे नगर क्षेत्र के बिल काउंटर बंद रहे। बिल भुगतान के लिए पहुंचे लोगों को काउंटर बंद होने से निराश होकर लौटना पड़ा। विद्युत विभाग की ओर से शहरी इलाके में उपभोक्ताओं की सुविधाओं के लिए बाबागंज, दहिलामऊ और भंगवा चुंगी स्थित एक्सईएन कार्यालय में बिल काउंटर बनाए गए हैं। इन काउंटरों पर संविदा पर कम्प्यूटर ऑपरेटर हैं। इसके अलावा संविदा पर मीटर रीडर की भी तैनाती की गई है। संविदा कर्मचारियों की मानें तो विगत छह माह से उन्हें मानदेय भुगतान नहीं किया गया। इससे नाराज संविदा कर्मचारी गुरुवार को बाबागंज विद्युत उपकेंद्र में जुटे और नारेबाजी की। इसके बाद सभी संविदाकर्मी हड़ताल पर चले गए। संविदा कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से गुरुवार को बाबागंज, दहिलामऊ और एक्सईएन कार्यालय स्थित बिल काउंटर बंद रहे। एक भी उपभोक्ता का बिल जमा नहीं हो सका। संविदा कर्मचारियों का कहना है कि जब तक उनका बकाया मानदेय भुगतान नहीं किया जाता हड़ताल जारी रहेगी। इस दौरान ओम प्रकाश, विकास कुमार ओझा, मनोज मौर्य, ज्ञानचंद्र यादव, हरिकेश, बृजेंद्र कुमार गौड, श्रवण कुमार, धर्मराज गौड, मनोज विश्वकर्मा, आशीष, शैलेश मौर्य आदि मौजूद रहे। इस बाबत एसडीओ टाउन अजीत सिंह यादव ने बताया कि सदर एसडीओ कार्यालय का काउंटर चालू रहा। विभाग की ओर से किया जा चुका है भुगतान अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड प्रथम सत्य प्रकाश मिश्र ने बताया कि विभाग में एक एजेंसी के जरिए कम्प्यूटर ऑपरेटर और मीटर रीडरों की तैनाती की गई है। विभाग की ओर से सभी कर्मचारियों का तीन माह का भुगतान एजेंसी को किया जा चुका है। लेकिन एजेंसी ने उन्हें मानदेय का भुगतान नहीं किया है। इस संबंध में एजेंसी से वार्ता की जा रही है। शुक्रवार तक समस्या का समाधान कर लिया जाएगा और कर्मचारी पुन: पहले की तरह काम करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Contract workers on strike