DA Image
28 जनवरी, 2021|8:30|IST

अगली स्टोरी

संक्रमण से स्वस्थ होने वालों में कौशाम्बी से पीछे है बेल्हा

default image

कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने वालों में अपना जिला प्रयागराज और कौशाम्बी से भी पीछे है। तीनों जनपदों में स्वस्थ होने वालों का सबसे अधिक प्रतिशत कौशाम्बी का है। उसके बाद प्रयागराज फिर प्रतापगढ़ है। यह जिले के लोगों के साथ स्वास्थ्य विभाग के लिए भी चिंताजनक है।

बुधवार तक के आंकड़े पर गौर करें तो जिले में कुल 3516 लोग संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें 2727 लोग स्वस्थ बताए जा रहे हैं। ठीक होने वालों में होम आइसोलेशन के साथ कोविड अस्पताल में भर्ती होने वाले भी शामिल हैं। यह 77.55 प्रतिशत है। वहीं, प्रयागराज और कौशाम्बी में कोरोना से ठीक होने वालों पर गौर करें तो सबसे आगे कौशाम्बी है। वहां बुधवार तक 1381 लोग कोरोना संक्रमति हो चुके थे। उनमें 1224 लोग अब तक स्वस्थ हो गए हैं। यह 88.63 फीसदी है। प्रयागराज इसके बाद हैं। उस जिले में अब तक स्वस्थ होने वालों की दर 79.61 प्रतिशत है। वहां अब तक मिले साढ़े 17 हजार संक्रमितों में 14 हजार से अधिक लोग ठीक हुए। आंकड़ों के बाद साफ है कि जिले में कोरोना संक्रमण से ठीक होने वालों की स्थिति बहुत अच्छी नहीं है।

होम आइसोलेशन में प्रयागराज के बराबर : कोरोना के मरीज कोविड अस्पताल के साथ होम आइसोलेशन में भी रखे जा रहे हैं। जिले में अब तक 1991 लोग होम आइसोलेशन में रहकर स्वस्थ हो चुके हैं। यह प्रतिशत 56.62 है। वहीं, प्रयागरज में अब तक होम आइसोलेशन में स्वस्थ होने वालों का प्रतिशत 56.14 है। कौशाम्बी में यह आंकड़ा 50.68 है।

मृत्यु दर सबसे कम : कोरोना संक्रमण पर एक राहत की बात है। जिले में संक्रमित लोगों की मृत्यु दर प्रयागराज और कौशाम्बी से कम है। प्रयागराज में अब तक 247 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। जिले में मिले पॉजिटिव मरीजों के मुकाबले यह 1.4 फीसदी है। मृत्यु दर में कौशाम्बी भी प्रयागराज के बराबर है। वहां भी कुल संक्रमितों के मुकाबले मरने वालों का प्रतिशत 1.4 है। मरने वालों की संख्या 20 है। प्रतापगढ़ में अब तक 40 संक्रमित दम तोड़ चुके है। मिले कुल पॉजिटिव मरीजों के मुकाबले यह 1.1 ही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Belha lags behind Kaushambi among those who recover from infection