DA Image
27 अक्तूबर, 2020|2:31|IST

अगली स्टोरी

बैरिकेडिंग कर सील किया कैबिनेट मंत्री का मोहल्ला

बैरिकेडिंग कर सील किया कैबिनेट मंत्री का मोहल्ला

1 / 2आखिरकार दो दिन बाद कैबिनेट मंत्री के मोहल्ले में अफसरों ने बैरिकेडिंग कर रास्ते सील करा दिए। नामित मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों ने दुकानें बंद कराईं और मोहल्ले वालों से बिना जरूरत घर से...

बैरिकेडिंग कर सील किया कैबिनेट मंत्री का मोहल्ला

2 / 2आखिरकार दो दिन बाद कैबिनेट मंत्री के मोहल्ले में अफसरों ने बैरिकेडिंग कर रास्ते सील करा दिए। नामित मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों ने दुकानें बंद कराईं और मोहल्ले वालों से बिना जरूरत घर से...

PreviousNext

आखिरकार दो दिन बाद कैबिनेट मंत्री के मोहल्ले में अफसरों ने बैरिकेडिंग कर रास्ते सील करा दिए। नामित मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों ने दुकानें बंद कराईं और मोहल्ले वालों से बिना जरूरत घर से बाहर नहीं निकलने की अपील की।

प्रदेश सरकार के ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह (मोती) व उनकी पत्नी के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद सदर बाजार स्थित आवास पर रहने वाले परिवार के तीन और सदस्यों में बुधवार को संक्रमण की पुष्टि हुई थी। गुरुवार को डीएम डॉ. रूपेश कुमार ने सदर बाजार/अजीत नगर को रेडियस जोन घोषित करते हुए सील करने का निर्देश दिया था। बावजूद इसके नामित मजिस्ट्रेट की लापरवाही के कारण शुक्रवार तक बैरिकेडिंग नहीं कराई गई। मोहल्ले की सभी दुकानें भी खुली रहीं। इस खबर को आपके अपने अखबार ‘हिन्दुस्तान ने प्रमुखता से प्रकाशित किया। इसके बाद शनिवार को डीएम की फटकार के बाद सक्रिय हुए नामित मजिस्ट्रेट प्रशांत श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे और आननफानन सर्वे कर मोहल्ले की सीमाएं सील कर दी गईं। नामित मजिस्ट्रेट ने पूरे मोहल्ले में घूमकर लोगों से घर में रहने व बिना जरूरत बाहर नहीं निकलने की अपील की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Barricading sealed the cabinet of the cabinet minister