DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  प्रतापगढ़ - कुंडा  ›  बैंडबाजा न बाराती, मंदिर में वर-कन्या ने लिए सात फेरे

प्रतापगढ़ - कुंडाबैंडबाजा न बाराती, मंदिर में वर-कन्या ने लिए सात फेरे

हिन्दुस्तान टीम,प्रतापगढ़ - कुंडाPublished By: Newswrap
Thu, 13 May 2021 08:51 PM
बैंडबाजा न बाराती, मंदिर में वर-कन्या ने लिए सात फेरे

बैंडबाजा न बाराती। बगैर दहेज शादी कर युवक ने मिसाल कायम की है। गांव की गरीब बेटी के हाथ पीले करने में लोगों ने बढ़कर सहयोग किया। कुंडा के नंदा का पुरवा खेमीपुर की हीराकली की बेटी निशा पटेल की शादी डुहिया भदरी निवासी वंशीलाल के बेटे रमाकांत के साथ तय थी। गरीबी और कोरोना कर्फ्यू के कारण शादी में दिक्कतें आ रही थीं। निशा के पिता की पहले ही मौत हो गई थी। ऐसे में हीराकली अपनी बेटी के हाथ पीले करने में असहाय हो गई। इसकी जानकारी गांव के लोगों को लगी तो मंजीत, धीरेन्द्र, बबलू पटेल आदि युवा आगे आए। गुरुवार को बाबा हौदेश्वरनाथ मंदिर में सादगी से बिना बैंडबाजा व बाराती व बिना दहेज के भगवान शिव को साक्षी मानकर निशा व रमाकांत ने सात फेरे लिए। एक-दूसरे को जयमाला पहनाकर जीवनभर साथ रहने का संकल्प लिया। मंदिर के पुजारी कमलेश मिश्र ने वर-कन्या को आशीर्वाद दिया।

संबंधित खबरें