DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश प्रतापगढ़ - कुंडाबापू को राष्ट्रपिता कहने पर अद विधायक को ऐतराज

बापू को राष्ट्रपिता कहने पर अद विधायक को ऐतराज

हिन्दुस्तान टीम,प्रतापगढ़ - कुंडाNewswrap
Mon, 01 Nov 2021 03:22 AM
बापू को राष्ट्रपिता कहने पर अद विधायक को ऐतराज

जेठवारा (प्रतापगढ़)। प्रदेश सरकार के खिलाफ काफी दिन से बगावती रुख अख्तियार करने वाले विश्वनाथगंज के अपना दल विधायक डॉ. आरके वर्मा ने महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता कहे जाने पर ऐतराज जताया है। भाजपा के सहयोग से विधायक बनने वाले डॉ. वर्मा ने इसके साथ ही खुले मंच से प्रदेश सरकार और अपनी पार्टी पर भी तीखे प्रहार किए। उन्होंने मुख्यमंत्री के लिए ‘बाबा शब्द के संबोधन के साथ भाजपा प्रत्याशियों की जमानत जब्त करने का आह्वान किया।

रविवार को जेठवारा के भोला का पुरवा में सरदार वल्लभ भाई पटेल के जयंती समारोह में विधायक बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। सरदार पटेल के बारे में अपने संबोधन में विधायक ने कहा कि उन्होंने इतिहास के पन्ने पलटे लेकिन उनकी समझ में नहीं आया कि महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता कैसे बना दिया गया। उन्होंने कहा कि जब सरदार वल्लभ भाई पटेल ने 565 रियासतों को एक करते हुए अखंड भारत का निर्माण किया तो राष्ट्रपिता का दर्जा उन्हें दिया जाना चाहिए था। मुझे महात्मा गांधी का किसी किताब में ऐसा योगदान नहीं मिला जो देशहित में सरदार वल्लभ भाई पटेल के कार्य की तुलना में बेहतर हो।

इसके बाद विधायक ने सियासी तेवर दिखाते हुए लोगों से 2022 के विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों की जमानत जब्त कराने का आह्वान किया। कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने का दावा करने वाली सरकार ने उनकी लागत तीन गुना बढ़ा दी। हर साल दो करोड़ नौकरी देने का वादा किया और दो हजार भी नहीं दे सके। कोरोना काल में केंद्र सरकार से मिले 21 हजार करोड़ रुपये के पैकेज का बंदरबांट कर लिया गया। उन्होंने कहा कि अब तो बाबा को भी जाना पड़ेगा। इसके साथ ही विधायक ने अपना दल पर भी हमला किया। कहा कि यहां मां-बेटी का झगड़ा था। जब वह प्रदेश अध्यक्ष थे तो अपना दल (एस) के नाम से रजिस्ट्रेशन कराने की सलाह दी। जब रजिस्ट्रेशन कराया जाने लगा तो उनके साथ ही धोखा कर दिया गया। कार्यक्रम में रामदुलार पटेल, योगेश कुमार, अंकेश, विनोद, सूरज मिश्र, विवेक यादव, इरशाद, फूलचंद पटेल आदि मौजूद रहे।

इनका कहना है

मैं कभी भाजपा का विधायक था ही नहीं। जिस अपना दल का विधायक हूं अब वे खुद इसका आकलन कर लें कि उनके साथ अधिक विधायक हैं या हमारे साथ। वैसे भी जिससे जनता का अहित हो रहा है उसे कहने में किसी को कोई संकोच नहीं करना चाहिए।

डॉ. आरके वर्मा, विधायक, विश्वनाथगंज

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें