DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › पीलीभीत › लॉकडाउन का पालन कराने गए लेखपालों पर ग्रामीणों का हमला
पीलीभीत

लॉकडाउन का पालन कराने गए लेखपालों पर ग्रामीणों का हमला

हिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतPublished By: Newswrap
Wed, 06 May 2020 12:26 AM
लॉकडाउन का पालन कराने गए लेखपालों पर ग्रामीणों का हमला

लॉक डाउन का पालन कराने गए अमरिया तहसील के दो लेखपालों और ग्रामीणों के बीच कहासुनी के बाद विवाद हो गया। लेखपालों ने ग्रामीणों पर मारपीट का भी आरोप लगाया है। मारपीट में ग्रामीणों ने लेखपालों का मोबाइल और पहचान पत्र भी फाड़ दिया। सूचना पर अमरिया पुलिस मौके पर पहुंची और दो लोगों को हिरासत में ले लिया। इस मामले में तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है।

तहसील अमरिया में तैनात लेखपाल राजीव और राहुल अपने इलाके के ग्राम हररायपुर में लॉकडाउन की व्यवस्था देखने मंगलवार शाम गए थे। इस दौरान एक स्थान पर लगभग 15 लोग एक साथ एकत्र होकर बातचीत करते देख लेखपालों ने सबको घर जाने की हिदायत दी। आरोप है कि इस पर ग्रामीणों ने एकत्र होकर लेखपालों से अभद्रता शुरू कर दी। ग्रामीणों ने लेखपालों के साथ मारपीट भी की। शोरशराबा होने पर पहुंचे ग्रामप्रधान ने समझाबुझाकर मामला शांत कराया।

इधर लेखपाल ने घटना की सूचना तहसीलदार को दी तो तहसीलदार अमरिया ने अमरिया पुलिस को जानकारी दी। जिसके बाद तहसीलदार आनंद राय और अमरिया पुलिस मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने लेखपालों को ग्रामीणों के चंगुल से मुक्त करवाया है। ग्रामीणों ने लेखपालों के मोबाइल और पहचान पत्र भी फाड़ दिए। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को हिरासत में लिया है। तहसीलदार आनंद राय ने बताया कि दो नामजद और 10 अन्य के खिलाफ थाना अमरिया में तहरीर दी जा रही है। लेखपालों के साथ मारपीट की गईं है। एसओ अमरिया उदयवीर सिंह का कहना है कि सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर गई थी। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

शराब पीने की सूचना पर लेखपालों का हुआ मेडिकल

मौके पर पहुंचे तहसीलदार और पुलिस के सामने ग्रामीणों ने लेखपाल ऊपर शराब पिए होने का आरोप लगाया। इसके बाद तहसीलदार और पुलिस ने लेखपालों को अमरिया सीएचसी लॉक दोनों का सीएचसी में मेडिकल कराया। मेडिकल रिपोर्ट में शराब पीने का आरोप झूठा साबित हुआ।

संबंधित खबरें