Union minister Maneka s reinstatement to Lok Sabha elections - केंद्रीय मंत्री मेनका ने प्रधानों को सौंपी लोकसभा चुनाव की बागडोर DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केंद्रीय मंत्री मेनका ने प्रधानों को सौंपी लोकसभा चुनाव की बागडोर

केंद्रीय मंत्री मेनका ने प्रधानों को सौंपी लोकसभा चुनाव की बागडोर

1 / 3मां सभी बच्चों को एक समान दुलार करती है। उसी तरह मैं भी पीलीभीत की जनता की मां की तरह हूं। डांटने फटकारने के बाद भी मेरे सभी अपने हैं। सभी का एक समान विकास किया जाता...

केंद्रीय मंत्री मेनका ने प्रधानों को सौंपी लोकसभा चुनाव की बागडोर

2 / 3मां सभी बच्चों को एक समान दुलार करती है। उसी तरह मैं भी पीलीभीत की जनता की मां की तरह हूं। डांटने फटकारने के बाद भी मेरे सभी अपने हैं। सभी का एक समान विकास किया जाता...

केंद्रीय मंत्री मेनका ने प्रधानों को सौंपी लोकसभा चुनाव की बागडोर

3 / 3मां सभी बच्चों को एक समान दुलार करती है। उसी तरह मैं भी पीलीभीत की जनता की मां की तरह हूं। डांटने फटकारने के बाद भी मेरे सभी अपने हैं। सभी का एक समान विकास किया जाता...

PreviousNext

मां सभी बच्चों को एक समान दुलार करती है। उसी तरह मैं भी पीलीभीत की जनता की मां की तरह हूं। डांटने फटकारने के बाद भी मेरे सभी अपने हैं। सभी का एक समान विकास किया जाता है।

किसी तरह का पक्षपात नहीं किया गया और न होगा। सबका दुख मेरा दुख है। प्रधान और बीडीसी सदस्य जनता का दुख दूर करने के लिए आगामी चुनाव में मेरा सहयोग करें। मैं अकेले सभी गांवो में नहीं पहुंच सकती। सभी लोग जुट कर अपनी जिम्मेदारी निभाएं।

यह भावुक बातें केंद्रीय मंत्री मेनका संजय गांधी ने नगर के एक बैंक्वेट हाल में सम्मलेन को संबोधित करते हुए क हीं। कोतवाली रोड पर स्थित हाल में बुधवार को प्रधान और बीडीसी सम्मेलन हुआ। इसमें पहुंची केंद्रीय महिला एवं बाल बिकास मंत्री ने ग्राम प्रधानों को आगामी चुनाव की जिम्मेदारी सौंपते हुए कहा कि वह अकेले सभी गांवों में पहुंचकर जनता से मुखातिब नहीं हो सकती। सभी ग्राम प्रधान चुनाव के लिए पूरी तरह जुट जाएं और गावों में सभी पात्रों को हर एक योजना से लाभान्वित करें।

उन्होंने कहा कि कि मैंने विकास की गंगा बहाकर पीलीभीत को देश में अलग पहचान दिलाई है। ग्राम प्रधानों से केंद्रीय मंत्री ने कहा कि गांव गांव युवाओं की फौज तैयार कर चुनाव में सहभागिता कराएं। इस दौरान उन्होंने पीलीभीत में साढ़े चार हजार बिजली कनेक्शन, एक लाख अस्सी हजार शौचालय, आयुष्मान, मुद्रा योजना, उज्जवला आदि योजनाओं के बारे में भी बताया। चुनाव बाद आयुष्मान योजना से वंचित पात्रों को लाभ दिलाने का आश्वासन दिया। सपा बसपा पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के भय से दोनों पार्टियों ने गठबंधन कर लिया लेकिन सरकार आगे भी बीजेपी की बनेगी भले गठबंधन से बनें।

सम्मलेन में कई प्रधानों सहित अन्य दलों के लोगों ने भी भाजपा का दामन थामा। दर्जनों लोगों ने समस्याओं को लेकर केद्रीय मंत्री को ज्ञापन भी सौंपे। नगर अध्यक्ष महेश मिश्रा, प्रधान संगठन के अध्यक्ष आशुतोष दीक्षित राजू, धु्रव सिंह, पूर्व सैनिक सत्यपाल सिंह चौहान, दामोदर प्रसाद यादव आदि ने भी विचार रखे।

इस अवसर पर नवीन अलग, ब्लाक प्रमुखपति अतेंद्र पाल सिंह, राजाराम शर्मा ,कौशल बाजपेई, राजू आचार्य, लक्ष्मीकांत भारद्वाज सहित दर्जनों ग्राम प्रधान और बीडीसी सदस्य मौजूद रहे। इसके बाद केंद्रीय मंत्री पिपरिया दुलई गांव पहुंची। वहां उन्होंने पंचायत घर का शुभारंभ किया और पूर्व प्रधान मुन्ना सिंह के यहां दोपहर भोज भी किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Union minister Maneka s reinstatement to Lok Sabha elections