अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीमांत गांवों में घूम रहे हैं दो तेंदुए

सीमांत गांवों में घूम रहे हैं दो तेंदुए

सीमांत गांवों में घरों में घुसकर पशुओं को मारने की घटना को अंजाम देने के बाद सक्रिय हुए वनाधिकारियों ने अब घटनाओं पर विराम लगाने का प्रयास शुरू किया है। इसके लिए क्षेत्र में घूमने वाले तेंदुए की संख्या को स्पष्ट किया जा रहा था। कैमरों में फुटेज के आधार पर क्षेत्र में दो तेंदुए होने की बात कही जा रही जो अलग अलग गांवों में दहशत कायम किए हैं।

अधिकारी वन्यजीवों की सुरक्षा के साथ ही ग्रामीणों की सुरक्षा के लिए भी काम की योजना बना रहे हैं।

माधोटांडा क्षेत्र के गांव बूंदीभूड़ और आसपास के गांवों में बीते एक माह से तेंदुआ आतंक कायम किए है। घरों से पशुओं को उठाकर उन्हें खा रहा है। क्षेत्र में तेंदुए की आवाजाही को लेकर कैमरों को लगाया गया गया था। इसी बीच गांव वीरखेड़ा में तेंदुए ने पशु को मार दिया। इसके बाद एफडी एच राजा मोहन ने क्षेत्र में तेंदुए की संख्या को स्पष्ट करने के आदेश दिए थे। आदेश पर इसकी पड़ताल की जा रही थी। पड़ताल के दौरान क्षेत्र में दो तेंदुए होने की बात सामने आई है, जो क्षेत्र में सक्रिय है। ऐसे में अधिकारी ग्रामीणों के साथ साथ वन्यजीव की सुरक्षा के लिए योजना बना रहे है। डीडी आदर्श कुमार ने बताया क्षेत्र में दो वन्यजीव मौजूद हैं। यदि नेपाल से आए है तो वह वापस लौट सकते है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two leopards roaming in Frontier villages