DA Image
1 दिसंबर, 2020|2:40|IST

अगली स्टोरी

घर घर तलाशे जाएंगे क्षयरोगी, वर्करों को दिया प्रशिक्षण

घर घर तलाशे जाएंगे क्षयरोगी, वर्करों को दिया प्रशिक्षण

पीलीभीत। हिन्दुस्तान संवाद

कोरोना के कारण बंद हुआ डोर टू डोर क्षय रोगी खोजो अभियान अब फिर से दो नवंबर से शुरू किया जाएगा। यह अभियान 11 तक चलेगा। अभियान के तहत शनिवार को टीबी अस्पताल में कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया और किट दी गई।

2 नवंबर से 11 नवंबर तक चलने वाले सघन टीबी रोगी खोजी अभियान के तहत शनिवार को जिला क्षय रोग केंद्र पर 3 चरणों में अलग-अलग क्षेत्रों के आशा और आंगनबाड़ियों को ट्रेनिंग दी गई। ट्रेनिंग में जिला क्षय रोग केंद्र के एसटीएस राजेश कुमार गंगवार ने डोर टू डोर चलने वाले अभियान में किस तरीके से लोगों के घर पर बात करनी है और जिनमें लक्षण पाए जाते हैं उनका बलगम का सैंपल किस तरीके से कलेक्ट करना है इसकी जानकारी दी। बताया कि लक्षण वाले मरीजों की जांच किस तरह से जिला क्षय रोग केंद्र पर भेजना है। इसके साथ ही कर्मचारियों को किट भी दी गई।

किट में मास्क, सैनिटाइजर , फेस शिल्ड सामान उपलब्ध कराया गया। जिला क्षय रोग प्रभारी डा. राजेश भट्ट ने बताया कि जिले के विभिन्न क्षेत्रों में चलने वाले इस प्रोग्राम के तहत टीबी के संदिग्ध रोगी खोजे जाएंगे और उनको इलाज पर रखा जाएगा। इसमें पूरे जिले में 91 टीमों को लगाया गया और 19 सुपरबाइजर हैं। भारत सरकार द्वारा लागू पोषण योजना के तहत ₹5 सौ रुपए हर महीने मरीज के खाते में डीवीटी के माध्यम से भेजे जाएंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Tuberculosis will be searched from house to house training given to workers