The workers of the missing workers stopped the salary - गायब मिले सफाईकर्मियों का वेतन रोका DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गायब मिले सफाईकर्मियों का वेतन रोका

गायब मिले सफाईकर्मियों का वेतन रोका

शहर की सफाई को लेकर अब नगर पालिका गंभीरता बरत रहा है। इन दिनों ईओ खुद हर रोज नाला सफाई कार्य का निरीक्षण कर रही हैं तो सुबह वार्डों में सफाई कार्य का जायजा ले रही हैं। शनिवार को दो वार्डों में गायब मिले पांच सफाई कर्मियों के साथ ही उनके सफाई नायकों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई।

चुनाव निपटाने के बाद डीएम ने प्रशासनिक व्यवस्था के पेंच कस दिए हैं। इसका असर नगर पालिका की कार्यप्रणाली पर साफ दिखाई दे रहा है। शहर की सफाई को लेकर थोड़ा सुस्त रहने वाला नगर पालिका अब चुस्त दुरुस्त हो गया है। ईओ निशा मिश्रा ने खुद सफाई व्यवस्था की निगरानी की कमान संभाली है। वह इन दिनों सुबह छह बजे ही शहर के निरीक्षण को निकल रही हैं। वह वार्डों में सफाई कर्मियों के मौजूदगी और वार्ड के मोहल्लों की सफाई की स्थिति परख रही हैं। इस बार नगर पालिका बोर्ड फंड में पर्याप्त बजट नहीं होंने से नगर पालिका नालों की सफाई ठेके पर न कराकर अपने संसाधनों से ही करा रहा है। नालों की सफाई में अन्य सालों में जमकर बजट खर्च किया जाता था, पर इस बार डीएम की नजर इस पर भी है। डीएम ने नालों की सफाई में कोताही नहीं बरतने की चेतावनी दी है। इस पर ईओ खुद ही नाला सफाई कार्य की निगरानी कर रही हैं। वह हर रोज कहीं न कही नाला सफाई कार्य का औचक निरीक्षण करती हैं। इसके साथ ही वह सुबह की पाली में शहर की सफाई का निरीक्षण भी करती हैं। शनिवार को वह सुबह शहर के वार्ड संख्या चार, 16 और 23 का निरीक्षण करने निकली। उन्हें वार्ड चार में कई जगह गंदगी मिली। उन्हें यहां सफाई कर्मी बब्बू पुत्तन, सोनू बिना पूर्व सूचना के गायब मिले। इस पर उन्होंने इन सफाई कर्मियों का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। इसके साथ ही वार्ड के सफाई नायक विकेश से स्पष्टीकरण तलब किया। इसके बाद वह वार्ड संख्या 16 में पहुंची। यहां उन्हें सफाई कर्मी राजेश यादव, गोपाल वर्मा, नरेश गायब मिले। इन सफाई कर्मियों का भी एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए और वार्ड के सफाई नायक श्रीचंद का भी स्पष्टीकरण तलब किया। वार्ड संख्या 23 में उन्हें व्यवस्थाएं काफी हद तक सही मिली। उन्होंने सफाई नायकों को निर्देश दिए कि वह वार्ड में लगे डस्टबिन की नियमित सफाई कराए। नालियों में जमा पालीथिन को साफ करें। उन्होंने नालियों में पॉलीथिन जमा नहीं होने देने की चेतावनी भी दी। निरीक्षण में उनके साथ खाद्य एवं सफाई निरीक्षक आबिद अली भी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: The workers of the missing workers stopped the salary