Public paved wall - सार्वजनिक रास्ते पर बनी दीवार पब्लिक ने गिराई, बवाल DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सार्वजनिक रास्ते पर बनी दीवार पब्लिक ने गिराई, बवाल

कालोनी के रास्ते पर अवैध कब्जा करके दीवार बना ली गई। जानकारी होने पर कॉलोनी के लोगों ने दीवार ढहा दी। जानकारी होने पर फोर्स संग पहुंची सिटी मजिस्ट्रेट ने लोगों को जमकर हड़काया।

इसके बाद पुलिस और प्रशासनिक अफसरों ने दोनों पक्षों को समझाबुझा कर मामला शांत किया। इस दौरान काफी देर तक सड़क पर अफरातफरी का माहौल रहा। सिटी मजिस्ट्रेट के मुताबिक अवैध कब्जा करने वालों के खिलाफ थाना सुनगढ़ी पुलिस को कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश के बाद कॉलोनी के लोगों ने थाना सुनगढ़ी में तहरीर दे दी है।थाना सुनगढ़ी क्षेत्र के मोहल्ला नखाशा में एक कॉलोनी है। यहां पर एक रास्ता कॉलोनी का सार्वजनिक था।

कॉलोनीवासियों ने सिटी मजिस्ट्रेट को बताया कि सार्वजनिक रास्ता होने के बाद उसको एक व्यक्ति ने अतिक्रमण कर बंद कर लिया है। इसको लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद की स्थिति बन गई। कॉलोनी वासियों की मानें तो उन्होंने एक दिन पूर्व इसकी शिकायत थाना सुनगढ़ी में की थी। सुनगढ़ी पुलिस ने दोनों पक्षों को बुलाकर समझौता भी करवाया था। इसके बाद भी दूसरे पक्ष के अनूप वाल्मीकि ने हनीफ की मदद से दीवार का निर्माण कर लिया। इसकी जानकारी होते ही कॉलोनी के लोगों में आक्रोश फैल गया।

कॉलोनीवासियों ने सिटी मजिस्ट्रेट को फोन कर पूरे मामले की जानकारी दी। इसके बाद खुद ही एकत्र होकर दीवार गिरा दी। दीवार गिरते ही दूसरे पक्ष के लोग भी एकत्र होने लगे। मामले की जानकारी अफसरों को लगी तो सिटी मजिस्ट्रेट अर्चना द्विवेदी सीओ सिटी धर्म सिंह मार्छाल और सुनगढ़ी पुलिस के साथ मौके पर पहुंची। सिटी मजिस्ट्रेट ने दोनों पक्षों को जमकर हड़काया।

इसके बाद मामले की स्थलीय जांच की गई। सिटी मजिस्ट्रेट ने सुनगढ़ी पुलिस को मामले की जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इस मामले में सुनगढ़ी थाने में कॉलोनी वासियों की ओर से अनूप वाल्मीकि और हनीफ निवासी केजीएन के खिलाफ तहरीर दी है।

सार्वजनिक रास्ते पर निर्माण कर लिया गया था। इसको लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद की सूचना पर मौके पर फोर्स के साथ गई थी। बाधित करने वाले पक्ष का कहना है कि उसने यह जमीन खरीदी है न कि सार्वजनिक रास्ता है। वो अपने रास्ते पर ही निर्माण करा रहे हैं। दोनों पक्षों की पूरी बात सुनने ओर अभिलेखों का निरीक्षण करने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

अर्चना द्विवेदी, सिटी मजिस्ट्रेट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Public paved wall