DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेपर देरी से बंटे, शिकायत शिक्षामंत्री को, डीआईओएस ने नकारा

पेपर देरी से बंटे, शिकायत शिक्षामंत्री को, डीआईओएस ने नकारा

बोर्ड परीक्षा में लापरवाही के मामले अब सामने आने लगे हैं। मंगलवार को एक परीक्षा केन्द्र शाम की पाली में हिन्दी का पेपर लेट बंटने की शिकायत पीड़ित परीक्षार्थियों की ओर से शिक्षामंत्री को भेजी गई है। वहीं डीआईओएस अब तक इस मामले की जानकारी होने से ही मुकरते रहे हैं।

यूपी बोर्ड की मंगलवार को सबसे बड़ी परीक्षा थी। इस दिन दोनों पालियों में हाईस्कू और इंटर हिन्दी विषय की परीक्षा थी। तब डीआईओएस की ओर से परीक्षा मे कहीं कोई खामी नहीं मिलने की बात कही गई थी। यह परीक्षा जिले के सभी 73 परीक्षा केन्द्रों पर शांतिपर्वूक और नकलविहीन निपटने की बात कही गई थी। उस दिन की परीक्षा में गड़बड़ी की शिकायत अब सामने आई है। यह शिकायत उस दिन भी डीआईओएस तक पहुंची थी पर तब उन्होंने इसको अफवाह बताया था। अब इसको लेकर परीक्षार्थियों की ओर से शिक्षामंत्री को शिकायती पत्र भेजा गया है।

इसमें कहा गया है कि वह जहानाबाद क्षेत्र के जीएम इंटर कालेज अमखिड़िया परीक्षा केन्द्र के परीक्षार्थी हैं और उन्हें 12 फरवरी को शाम की पाली में हिन्दी का पेपर 40 मिनट देरे से उपलब्ध कराया गया था। केन्द्र व्यवस्थापक की ओर से इसका कारण भी नहीं बताया गया। शिकायत करने वाले परीक्षार्थियों ने उस दिन की सीसीटीवी फुटेज निकलवाकर जांच कराने की मांग की है। इस संबंध में डीआईओएस संत प्रकाश ने बताया कि सूचना पर उन्होंन ने केन्द्र व्यवस्थापक और स्टेटिक मजिस्ट्रेट से जानकारी की थी पर उन्होंने इससे इंकार किया था।

डीआईओएस ने कहा उस केन्द्र की शिकायत द्वेष भावन के चलते की जा रही है। फिर भी जांच के लिए केन्द्र से उस दिन की सीसीटीवी रिकार्डिंग मंगवाई गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Paper delayed complaint to Education Minister Deos rejected