ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश पीलीभीतमहाराजपुर में नेपाल के हाथियों ने फिर उजाड़ी केला व गन्ने की फसल

महाराजपुर में नेपाल के हाथियों ने फिर उजाड़ी केला व गन्ने की फसल

बराही रेंज के जंगल में डेरा डाले नेपाल के दो हाथियों ने शुक्रवार की रात फिर गांव महाराजपुर में कई किसानों की केले और गन्ने की फसल रौंद दी। टार्च की...

महाराजपुर में नेपाल के हाथियों ने फिर उजाड़ी केला व गन्ने की फसल
हिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतSun, 03 Dec 2023 01:00 AM
ऐप पर पढ़ें

बराही रेंज के जंगल में डेरा डाले नेपाल के दो हाथियों ने शुक्रवार की रात फिर गांव महाराजपुर में कई किसानों की केले और गन्ने की फसल रौंद दी। टार्च की रोशनी डालकर और शोर मचाने पर दोनों हाथी जंगल में चले गए। सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम ने हाथियों को नेपाल के जंगल में खदेड़ा।
शुक्रवार की रात वह फिर जंगल से निकलकर महाराजपुर के नजदीक खेतों में पहुंच गए। गांव के गौतम के खेत में गन्ने और पुनीत अरोरा के खेत में खड़ी केले की फसल उजाड़ दी। कई किसानों की फसल को भी नुकसान पहुंचाया। रात में उनकी चिंघाड़ सुनने पर ग्रामीणों को हाथी आने की जानकारी हुई। बड़ी संख्या में लोगों ने एकत्र हो गए। हाथियों पर टार्च की रोशनी डाली और शोर मचाया। इसपर दोनों हाथी फिर उसी जंगल में चले गए। हालांकि वन विभाग के अधिकारी हाथियों को भारतीय क्षेत्र से नेपाल सीमा में पहुंचाने का दावा कर रहे हैं। जबकि ग्रामीणों का कहना है कि हाथियों ने नौजलिया के जंगल में डेरा डाल रखा है।

वन टीम ने लोकेशन ट्रेस कर हाथियों को खदेड़ा

डिप्टी रेंजर सहीर अहमद ने बताया कि शुक्रवार सुबह भारत नेपाल सीमावर्ती गांव बूदीभूड़ के लोगों ने पिलर संख्या 794/2 (19) के पास भारतीय क्षेत्र में हाथी होने की सूचना दी। वन विभाग की टीम ने उनके पदचिन्ह देखे। शाम के वक्त नौजलिया जंगल में हाथियो को बास खाते हुए देखा गया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें