DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मृतक का पर्स और मोबाइल भी है गायब

बरखेड़ा में हुई चौकीदार की हत्या मामले में पुलिस ने मृतक के पिता की तहरीर पर बरेली के ठेकेदार के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। परिजनों ने मुंशी और ठेकेदार पर हत्या का आरोप लगाया है। परजिनों के मुताबिक एक दिन पहले ही उसने नौकरी छोड़कर आने की बात कही थी। जिस दिन हादसा हुआ उसी दिन वह दोपहर 12 बजे नौकरी छोड़कर आना था। परिजनों की मानें तो मृतक का पर्स, मोबाइल और जरूरी कागजात भी हत्यारे अपने साथ ले गए हैं।शुक्रवार को बरखेड़ा क्षेत्र के ग्राम नारायणठेर निवासी बंटू मिश्रा पुत्र राकेश मिश्रा का शव अमेडी नदी के सौंदा पुल पर मिला था। हादसे की जानकारी मिलने पर परिजन भी पहुंच गए।

शव को देखकर परिजन बदहवास हो गए। सूचना पुलिस को मिली तो इंस्पेक्टर बरखेड़ा जयवीर सिंह परमार फोर्स के साथ पहुंचे और परिजनों से बातचीत की। मृतक के पिता के मुताबिक उनके बेटे ने उनको बताया था कि यहां पर मुंशी और अन्य कर्मचारी कुछ सामान की चोरी करके बेचते हैं। जिसक वह विरोध करता है तो सभी लोग उसको धमकी देते हैं। मृतक के पिता ने मुंशी और ठेकेदार पर हत्या का आरोप लगाया था। मृतक के पिता राकेश ने बताया कि गुरुवार को उनके बेटे बंटू ने बताया था कि मुंशी उसको बहुत परेशान करता है और ठेकेदार भी शह दे रहा है। जिस कारण वह शुक्रवार दोपहर बारह बजे नौकरी छोड़कर घर आ जाएगा।

शुक्रवार सुबह वह घर पर आया था और ठेकेदार की बाइक के कागजात भी ले गया था। घर से वापस जाने के एक घंटे बाद ही हत्या की सूचना मिल गई। परिजनों के मुताबिक उनको शक है कि बंटू की गोली मारकर हत्या की गई है। चूंकि श्व देखकर सरिया मारने वाली बात बिल्कुल गलत लग रही है। इतना ही नहीं मृतक के पास से दो मोबाइल, पर्स और आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस भी गायब हैं। इधर पुलिस ने मृतक के पिता की तहरीर पर ठेकेदार शंर अली खां के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। इंस्पेक्टर बरखेड़ा जयवीर सिंह के मुताबिक मामले की गहनता से जांच की जा रही है। ठेकेदार को कई बार फोन किए गए लेकिन उसने फोन कॉल रिसीव नहीं की। जो उसकी संदिग्धता की ओर इशारा कर रही हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Missing man